देश के इस गांव में जन्म लेते हैं केवल जुड़वां बच्चे, वैज्ञानिक भी नहीं खोज पाए कारण



Twin Town: देश के इस गांव में जन्म लेते हैं केवल जुड़वां बच्चे, वैज्ञानिक भी नहीं खोज पाए कारण

केरेल। अगर हम आपसे कहें भारत में एक जगह ऐसी भी है जहां सिर्फ जुड़वा बच्चे ही जन्म लेते हैं, तो आपको सुन कर हैरानी होगी। लेकिन यह बात सच है। आज हम बात करेंगे भारत में स्थित एक ऐसी ही जगह के बारे में जहां अधिकतर जुड़वा बच्चे ही जन्म लेते हैं। केरल के मलप्पुरम जिले में स्थित इस जगह में ज्यादातर बच्चे जुड़वां ही पैदा होते हैं। कहा जाता है कि यह एशिया का पहला ऐसा राज्य है जहां सिर्फ जुड़वा बच्चे ही जन्म लेते हैं। 

आपको बता दें कि पूरी दुनिया में 1000 बच्चों में से केवल 4 या 5 बच्चे ही जुड़वा पैदा होते हैं। लेकिन केरेल के इस गांव में यदि 1000 बच्चे जन्म लेते हैं तो उनमें से 45 बच्चे जुड़वा होते हैं। कहा जाता है कि इस गांव की आबादी करीब 2000 तक है, जिसमें से 250लोग जुड़वां ही हैं। यहां अधिकतर जगहों पर हमशक्ल लोग देखने को मिलते हैं।

वैज्ञानिकों ने कई बार इस रहस्यमयी जगह को लेकर खोज भी की है लेकिन आज तक वैज्ञानिक यहां जुडवा बच्चे पैदा होने के पीछे की वजह का पता नहीं लगा पाए हैं। कुछ वैज्ञानिकों का कहना है कि यहां के पानी में किसी प्रकार का केमिकल मिला है, इसलिए यहां जुड़वा बच्चे जन्म लेते हैं। कहा जाता है कि इस गांव में 65 साल पहले दो जुड़वां भाई पहनों ने जन्म लिया था, तभी से ही इस गांव में जुड़वा बच्चे पैदा होना शुरू हो गए। आपको जनकार हैरानी होगी कि यह गांव पूरे विश्व में दूसरे नंबर का गांव है यहां जुड़वा बच्चे पैदा होते हैं। इसी कारण इस गांव का नाम ट्विनटाउन पड़ा।

Share This

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password