Trigrahi Yog From Surya Gochar 16 Dec 2021 : 10 दिन तक रहना होगा सतर्क, त्रिग्रही योग इनकी बढ़ा सकता है उग्रता

surya ka gochar

नई दिल्ली। ग्रहों के सेनापति Trigrahi Yog From Surya Gochar 16 Dec 2021 लेकिन इस वर्ष के राजा मंगल ने वृश्चिक में प्रवेश कर लिया है। इस राशि में पहले से उपस्थित सूर्य और केतू के साथ मिलकर त्रिग्रही योग भी बना लिया है। ज्योतिषाचार्यों की मानें तो जब 16 दिसंबर को सूर्य यहां से निकलकर धनु में प्रवेश करेंगे। इसी के बाद यह त्रिग्रही योग भंग होगा। इसके समाप्त होने तक विभिन्न राशि के जातकों को विशेष सावधान रहने की जरूरत है। ज्योतिषाचार्य पंडित राम गोविन्द शास्त्री के अनुसार कुछ विशेष राशियों को संयम से काम लेने की आवश्यकता है। आइए जानते हैं कौन सी हैं वे राशियां।

मेष राशि –
मेष राशि से अष्टम भाव में इन ग्रहों की युति होना शुभ संकेत नहीं है। इससे कार्यक्षेत्र में षडयंत्रों का शिकार होना पड़ सकता है। इतना ही नहीं सेहत को लेकर की गई लापरवाही भी आपको भारी पड़ सकती है। कोर्ट—कचहरी के मामलों से भी बचने की सलाह आपको दी जा रही है।

वृष राशि –
वृष राशि से सप्तम भाव में बना त्रिग्रही योग आपके दांपत्य जीवन में कड़वाहट ला सकती है। लेकिन इसके विपरीत आपके लिए कामयाबी के नए द्वार खुल सकते है। अपनी योजनाएं और भविष्य के लिए की जा रही प्लानिंग किसी के साथ साझा न करने की सलाह आपको दी जा रही है।

मिथुन राशि –
मिथुन राशि से छठे भाव में मंगल, सूर्य और केतु की युति आपके लिए किसी वरदान से कम नहीं है। यह योग आपको बेहद फायदा दिलाएगा। बस आपको करना इतना है कि इस दौरान आपको पैसों की उधारी देने से बचना है। दुर्घटनाओं से भी सतर्क रहने की जरूरत है।

कर्क राशि –
कर्क राशि से पंचम भाव में त्रिग्रही योग विद्यार्थियों के लिए एक अच्छा सफलता के नए अवसर लेकर आने वाला है। आप अपनी पढ़ाई को लेकर कन्संट्रेशन कर पाएंगे। नौकरी में नए अवसर मिल सकते हैं।

सिंह राशि –
सिंह राशि से चतुर्थ भाव में बन रहा त्रिग्रही योग आपको ऐसे परिणाम लेकर आएगा जो आपने सोचे भी नहीं होंगे। जमीन-जायदाद से जुड़े मामलों में भी सफलता मिलेगी। व्यापार में भी आपको अनुकूल परिणाम मिलेंगे।

कन्या राशि –
कन्या राशि से तृतीय भाव में त्रिग्रही योग आपके लिए बेहद शुभ है. योजनाओं को गोपनीय रखते हुए कार्य करने से सफलता मिलेगी. धार्मिक कार्यों में रूचि लेंगे.

तुला राशि –
तुला राशि वालों को भी द्वितीय भाव में बन रहा त्रिग्रही योग अप्रत्याशित लाभ दिलाएगा। अगर आपके पैतृक संपत्ति या जमीन-जायदाद से जुड़े मामले लंबित हैं तो फैसले पक्ष में मिलेंगे। किसी पर भी आंख बंद करके विश्वास न करें।

वृश्चिक राशि –
वृश्चिक राशि वालों को जरूर सतर्क रहनेे की आवश्यकता है। आपकी कुंडली में बन रहा त्रिग्रही योग उतार-चढ़ाव की स्थिति पैदा कर सकता है। हालांकि दुकान-मकान से जुड़े कार्य शुरू करने के लिए शुभ समय है। रोजगार से जुड़े मालमों में लाभ मिलेगा।

धनु राशि –
धनु राशि से बारहवें भाव में बन रहा त्रिग्रही योग आपके लिए थोड़ा कष्टकारक हो सकता है। मानसिक और स्वभाव से चिड़चिड़ापन महसूस करेंगे। अशुभ समाचार मिल सकता है।

मकर राशि –
मकर राशि से एकादश भाव में बन रहा त्रिग्रही योग लाभ के अवसर पैदा करेगा। भाई-बहन का सहयोग प्राप्त होगा। अगर किसी को पैसा उधार दिया है तो वह धन वापस मिल सकता है। लंबे समय से चली आ रही चिताएं दूर होंगी।

कुंभ राशि –
कुंभ राशि से दशम भाव में बन रहा त्रिग्रही योग माता-पिता की सेहत के लिहाज से चिंताजनक हो सकता है। इसके विपरीत नौकरी में आपको अच्छे अवसरों की प्राप्ति हो सकती है। समाज में आपको मान—सम्मान मिलेगा।

मीन राशि –
मीन राशि से नवम भाव में बन रहा त्रिग्रही योग आपके मिलए मिलाजुला असर दिखाएगा। नौकरी से जुड़े लोगों को पदोन्नति मिल सकती है। रोजगार के नए रास्ते खुलते नजर आएंगे।

नोट : इस लेख में दी गई सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित है। बंसल न्यूज इसकी पुष्टि नहीं करता। अमल में लाने से पहले विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password