Tomato Flue : क्या है टोमैटो फ्लू, जो तेजी से बच्चों को बना रही अपना शिकार, जानें लक्षण और बचाव

Tomato Flue : क्या है टोमैटो फ्लू, जो तेजी से बच्चों को बना रही अपना शिकार, जानें लक्षण और बचाव

नई दिल्ली। बदलता मौसम और Tomato Flue : उस पर कोरोना का डर बच्चों keral news की सेहत को लेकर kids health चिंतित कर देता है। ऐसे में एक नया फ्लू है जो बच्चों को health news बीमार कर रहा है। आपको बता दें केरल के कुछ हिस्सों में बच्चों में 80 से ज्यादा टोमैटो फ्लू या टोमैटो फीवर के मामले दर्ज किये गए हैं। पर क्या आपको पता है कि ये टोमैटो फ्लू क्या है। यदि नहीं तो चलिए आज हम आपको बताते हैं इसके लक्षण और बचाव।

केरल में मिला है ये नया वायरस —
आपको बता दें बीते दिनों केरल के कई हिस्सों में एक नए वायरस का पता चला है। सबसे ज्यादा टेंशन देने वाली बात ये है कि ये वायरस सबसे ज्यादा बच्चों को अपनी चपेट में ले रहा है। आपको बता दें इसके पहले केरल में फूड पॉइजनिंग के मामले सामने आने के बाद करीब 80 बच्चों में टोमैटो फीवर की पुष्टि हुई है।

5 साल के कम उम्र के बच्चे इसके शिकार —
आपको बता दें केरल में मिला ये वायरस यानि टोमैटो फीवर या टोमैटो फ्लू (Tomato Flu in Hindi) 5 साल से कम उम्र के बच्चों को अपना अधिक शिकार बना रहा है। कोरोना के आते केसों के बीच इस वायरस ने और अधिक चिंता बढ़ा दी है।

क्यों कह रहे हैं टोमैटो फ्लू —
आपको बता दें ऐसा बताया जा रहा है कि टोमैटो फ्लू एक दुर्लभ बीमारी है। जिसके चपेट में 80 से ज्यादा बच्चों के होने की पुष्टि हुई है। राहत की बात ये है कि केरल के अलावा दूसरे राज्यों में इसकी पुष्टि की खबर सामने नहीं आई है। चूंकि जिन ​बच्चों में इस बीमारी की पुष्टि हुई है उनके शरीर पर टमाटर की तरह गोल-गोल दानें और चक्कते दिख रहे हैं। जो इसके लक्षणों में शामिल है। इतना ही नहीं इसमें बच्चों बुखार आना भी एक लक्षण है।

क्या है टोमैटो फ्लू? (What is Tomato Flu?)
आपको बता दें केरल में जिस टोमैटो फ्लू ने 80 से ज्यादा बच्चों को अपनी चपेट में लिया है उनके शरीर पर टमाटर की तरह से लाल रंग के दानें हो जाते हैं। जिसके कारण उन्हें त्वचा पर जलन और खुजली होती है। इतना ही नहीं इसके प्रभाव से उन्हें तेज बुखार भी आता है। साथ ही बच्चों को डिहाइड्रेशन के साथ-साथ शरीर और जोड़ों में बेहद दर्द होता है। केरल के स्वास्थ्य विभाग द्वारा मीडिया को जो जानकारी दी गई उसके अनुसार यह संक्रमण 5 साल से कम उम्र के बच्चों में देखने को मिला है और तेजी से फैल रहा है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password