Tokyo Paralympic 2020: भारत का नाम हुआ पहला पदक, प्रधानमंत्री राष्ट्रपति सहित अन्य लोगों ने भावनाबेन को दी बधाई…

bhavinaben patel

नई दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को टोक्यो खेलों Tokyo Paralympic 2020 में एतिहासिक रजत पदक जीतने के लिए टेबल टेनिस खिलाड़ी भाविनाबेन पटेल को बधाई दी। मौजूदा पैरालंपिक खेलों में यह भारत का पहला पदक है।

भाविनाबेन को टेबल टेनिस क्लास 4 स्पर्धा के महिला एकल फाइनल में दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी चीन की झाउ यिंग के खिलाफ 0-3 से शिकस्त का सामना करना पड़ा लेकिन वह पैरालंपिक खेलों में पदक जीतने वाली दूसरी भारतीय महिला खिलाड़ी बनने में सफल रहीं।

राष्ट्रपति कोविंद ने ट्वीट किया, ‘‘भाविना पटेल ने पैरालंपिक में Tokyo Paralympic 2020 रजत पदक जीतकर भारतीय दल और खेल प्रेमियों को प्रेरित किया है। आपकी असाधारण प्रतिबद्धता और कौशल ने भारत को गौरवांवित किया है। इस शानदार उपलब्धि पर आपको मेरी ओर से बधाई।’’

चौंतीस साल की भाविना को पैरालंपिक की दो बार की स्वर्ण पदक  Tokyo Paralympic 2020 विजेता झाउ के खिलाफ 19 मिनट में 7-11 5-11 6-11 से हार का सामना करना पड़ा। इस पदक के साथ भारत ने मौजूदा खेलों में अपना खाता खोला। जिस पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि, भाविनाबेन की उपलब्धि युवाओं के लिए प्रेरणा है। मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘भाविना पटेल ने इतिहास रचा। उन्होंने एतिहासिक रजत पदक जीता है। इसके लिए उन्हें बधाई। जीवन में उनकी यात्रा प्रेरणादायी है और यह अधिक युवाओं को खेलों से जोड़ेगी।’’

 

प्रधानमंत्री ने भाविनाबेन से बात भी की और उन्हें इस शानदार उपलब्धि पर बधाई दी। उन्होंने इस खिलाड़ी को भविष्य के लिए भी शुभकामनाएं दी। गुजरात के मेहसाणा के बड़नगर के सुंधिया गांव की रहने वाली भाविनाबेन से मोदी ने कहा कि, वह भी कई बार सुंधिया जाते हैं। उन्होंने पूछा कि क्या अब भी उनका परिवार वहां रहता है। जिस पर Tokyo Paralympic 2020 भाविनाबेन ने कहा कि उनके माता-पिता अब भी वहां रहते हैं।

 

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन और कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी सोशल Tokyo Paralympic 2020 मीडिया पर उन्हें बधाई दी। सीतारमन ने ट्विटर पर लिखा, ‘‘पैरा टेबल टेनिस में रजत पदक जीतने के लिए भाविना पटेल को बधाई। आपकी दृढ़ता और सफलता कई लोगों के लिए प्रेरणा बनेगी।’’

 

राहुल गांधी ने लिखा, ‘‘रजत पदक जीतने के लिए भाविना पटेल को बधाई। भारत आपकी उपलब्धि की सराहना करता है। Tokyo Paralympic 2020 आपने देश को गौरवांवित किया है।’’

भारत के पहले व्यक्तिगत ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता अभिनव बिंद्रा ने लिखा, ‘‘रजत पदक जीतकर भाविना पटेल Tokyo Paralympic 2020 ने शानदार प्रदर्शन किया और तोक्यो 2020 पैरालंपिक में भारत का खाता खोला। कौशल और मानसिक दृढ़ंता का शानदार प्रदर्शन। बेहद गर्व है।’’

 

भारतीय पैरालंपिक समिति की मौजूद अध्यक्ष दीपा मलिक पैरालंपिक खेलों में पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला थीं। उन्होंने पांच साल पहले रियो खेलों में गोला फेंक में रजत पदक जीता था। भाविनाबेन को बधाई देते हुए दीपा ने कहा, ‘‘भाविना Tokyo Paralympic 2020 का प्रदर्शन देखना शानदार रहा, उन्होंने प्रतियोगिता में अपने खेल से विरोधियों को हैरान कर दिया।’’ उन्होंने कहा, ‘‘उसका खेल, कौशल, धैर्य, वापसी करना, एकाग्रता बनाए रखना, इसे बयां करने के लिए शब्द नहीं हैं, यह विश्व स्तरीय है।’’

दीपा ने कहा कि भाविनाबेन ने दिव्यांगता से जुड़ी वर्जनाओं को तोड़ दिया। उन्होंने कहा, ‘‘निजी तौर पर मुझे लगता है कि यह एक व्यक्ति से दूसरे को जिम्मेदारी देना है। मैं हमेशा चाहती हूं Tokyo Paralympic 2020 कि महिलाएं आगे आएं और प्रतिनिधित्व करें जिससे कि हम दिव्यांगता से जुड़ी वर्जनाओं को तोड़ सकें और भाविना ने ऐसा ही किया।’’

पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग, वीवीएस लक्ष्मण और अनिल कुंबले ने भी एतिहासिक पदक के लिए भाविनाबेन को बधाई दी। सहवाग ने लिखा, ‘‘मौजूदा तोक्यो पैरालंपिक Tokyo Paralympic 2020 की महिला एकल क्लास 4 टेनिस स्पर्धा में भारत के लिए पहला रजत पदक जीतने के लिए भाविना पटेल को बधाई। एकग्रता, कड़ी मेहनत और मानसिक दृढ़ता का शानदार प्रदर्शन।’’

 

 

 

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password