हाथों और पैरों की झनझनाहट, इन बीमारियों का देती है संकेत

भोपाल: अगर आप एक ही जगह एक ही तरह से लंबे समय तक बैठे रहते हैं तो आपके हाथ-पैरों में झुनझुनी की समस्या उत्पन्न हो जाती है। लेकिन इस तरह की झुनझुनी को बीमारी का अंदेशा नहीं कहा जाता है।

लेकिन जब हाथों और पैरों में झुनझुनी (झनझनाहट) की वजह से आपके हाथ-पैर सुन्न हो जाए या फि इस दौरान आपको चुभन जैसी तकलीफ महसूस हो या फिर आपके हाथ-पैर हिलाने में असमर्थ महसूस होने लगे तो आपके शरीर के किसी हिस्से में अंदरुनी चोट की वजह से भी झनझनाहट पैदा हो सकती है और क्या आपको पता है कि हमारे शरीर में ज्यादा झुनझुनी आना हमारे स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं होता है। अगर आपको ज्यादा झुनझुनी हो रही है तो इस स्थिति में आप अपने डॉक्टर से परामर्श जरूर लें।

हाथ-पैर में झुनझुनाहट कई गंभीर बीमारियों के कारण भी हो सकती है। जैसे- थायराइड, मधुमेह, स्ट्रोक व अन्य कई बीमारियां, इन बीमारियों में डॉक्टर से संपर्क जरुर करें।

​गंभीरता से लें हाथों और पैरों की झनझनाहट

– कई बार बॉडी में रक्त संचार की कमी की वजह से हाथ-पैर में झनझनाहट होने लगती है। क्योंकि अगर हमारे शरीर में अगर रक्त संचार ठीक तरह से नहीं होता है तो इसका असर हमारी नसों में दिखने लगता है। जिससे हमारे शरीर के विभिन्न हिस्सों में ऑक्सीजन ठीक से पहुंच नहीं पाती और सुन्न हो जाती है।

– कई बार ऐसा भी होता है कि झुनझुनाहट या सुन्न की समस्या नसों से संबंधित बीमारी से पीड़ित होने के कारण होती है। हमारे हाथों और पैरों में ऐसा एहसास होता है कि जैसे किसी ने सुई चुभा दी है। कभी कभी ये दर्द असहनीय हो जाता है। तो अगर आपको भी यही समस्या है तो डॉक्टर से इसका इलाज जरुर करवा लें।

– अगर आपकी हाथों की अंगुलियों और कलाई में लंबे समय तक झनझनाहट रहती है या वह सुन्न पड़ जाते हैं, तो इसे नजरअंदाज नहीं करें। यह लक्षण कार्पल टनल सिंड्रोम बीमारी के हो सकते हैं, जिसमें कलाई की बीच की नस जो हाथ और बाजू तक जाती है, बीच की नस दब जाने से अंगुलियों में झनझनाहट की शिकायत हो सकती है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password