Corona Vaccine in Delhi: सिसोदिया बोले-'देश में वैक्सीन नहीं लेकिन दुनियाभर में टीकाकरण के विज्ञापन छाए हैं'

Corona Vaccine in Delhi: सिसोदिया बोले-‘देश में वैक्सीन नहीं लेकिन दुनियाभर में टीकाकरण के विज्ञापन छाए हैं’

नई दिल्ली। (भाषा) उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने सोमवार को आरोप लगाया कि केंद्र ने दिल्ली के अधिकारियों पर 21 जून से सभी के लिए मुफ्त कोविड टीका उपलब्ध कराने को लेकर उसे धन्यवाद देते हुए, अखबारों में विज्ञापन देने का दबाव डाला है जबकि शहर को 2.94 करोड़ खुराक की जरूरत होने के बावजूद अब तक केवल 57 लाख खुराकें ही मिली हैं ।सिसोदिया ने यह भी कहा कि केंद्र जुलाई में कोविड टीकों की केवल 15 लाख खुराकों की आपूर्ति करेगा और इस गति से शहर की पूरी आबादी का टीकाकरण कराने में करीब 16 महीने और लगेंगे।उन्होंने कहा कि कई भाजपा शासित राज्यों ने अखबारों में इश्तिहार छपवाकर 21 जून से 18 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों के लिए मुफ्त कोविड टीका मुहैया कराने के लिए केंद्र को धन्यवाद दिया है।

सिसोदिया ने ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन के दौरान आरोप लगाया, “ उन्होंने दिल्ली के अधिकारियों से भी कहा कि अखबार में विज्ञापन प्रकाशित कराकर मुफ्त टीके के लिए (प्रधानमंत्री नरेंद्र) मोदी का शुक्रिया करें। उन्होंने इस टूलकिट को दिल्ली सरकार के अधिकारियों को भेजा था और उनपर ऐसे विज्ञापन जारी करने के लिए दबाव डाला था।” आम आदमी पार्टी (आप) नेता ने आरोप लगाया, “लोगों को विज्ञापनों की नहीं, टीकों की जरूरत है। मैं प्रधानमंत्री से अगले दो महीनों में 2.3 करोड़ और खुराक की आपूर्ति करने का अनुरोध करता हूं। मैं वादा करता हूं कि हम आपका प्रचार करेंगे…पूरी दिल्ली में विज्ञापन प्रकाशित कराएंगे, लेकिन आप राज्यों को बिना टीका दिए ऐसा करने के लिए कहते रहे हैं।

सात जून को, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घोषणा की थी कि केंद्र सरकार 21 जून से 18 वर्ष और उससे अधिक आयु के सभी नागरिकों का मुफ्त में टीकाकरण कराएगी और केंद्र सरकार राज्यों को टीकों की खुराकें वितरित करेगी। सिसोदिया ने कहा, “मुझे पता चला है कि दिल्ली को 21 जून के बाद से इस्तेमाल के लिए किसी टीके की मुफ्त आपूर्ति नहीं हुई है।”उन्होंने कहा कि केंद्र जुलाई के लिए सिर्फ 15 लाख खुराकों की आपूर्ति करेगा। उपमुख्यमंत्री ने कहा, “ हम इस रफ्तार से चले तो, पूरी दिल्ली का टीकाकरण करने में 15-16 महीने और लग जाएंगे।” सिसोदिया ने आरोप लगाया, “आप कहते रहे हैं कि भारत विश्व स्तर पर सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान चला रहा है, लेकिन यह दुनिया का सबसे कुप्रबंधित, पटरी से उतरा हुआ और विसंगतियों से भरा अभियान हो गया है।”दिल्ली में 18-44 साल के आयु वर्ग में लगभग 92 लाख लोग कोविड-19 टीकाकरण के पात्र हैं। शहर में 45 से वर्ष से अधिक उम्र के 57 लाख लोग हैं।उन्होंने कहा, “इस आबादी को पूरी तरह से टीका लगाने के लिए दिल्ली को 2.94 करोड़ खुराकों की जरूरत है। दिल्ली को अब तक 57 लाख खुराकें मिली हैं। हमें 2.3 करोड़ खुराक और चाहिए।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password