आरोपी गोविंद सिंह को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने कहा- अगर मप्र पुलिस नहीं कर पा रही गिरफ्तारी तो दूसरी एजेंसी को सौंपे केस…

भोपाल। हटा के बहुचर्चित कांग्रेस नेता देवेंद्र चौरसिया हत्याकांड के आरोपी पथरिया विधायक रामबाई के पति गोविंद सिंह की गिरफ्तारी न होने पर सुप्रीम कोर्ट ने कड़ा रुख अपनाया है। शुक्रवार को केस की सुनवाई के दौरान कोर्ट ने कड़ा रुख अपनाया है। सुको ने कहा कि अगर मप्र पुलिस गोविंद सिंह को गिरफ्तार नहीं कर पा रही है तो केस दूसरी एजेंसियों को सौंपा जाए। इसके लिए कोर्ट ने 5 अप्रैल तक की मोहलत दी है।

बता दें कि शुक्रवार को कोर्ट ने मप्र पुलिस ने शपथ पत्र के साथ स्टेटस रिपोर्ट मांगी थी। इस पर पेश किए गए दमोह एसपी एवं डीजीपी के एफीडेविड को कोर्ट ने नकार दिया है। गौरतलब है कि कांग्रेस नेता देवेंद्र चौरसिया हत्याकांड में आरोपी गोविंद सिंह की गिरफ्तारी अभी तक नहीं हो पाई है। 12 दिनों से 17 पुलिस की टीमें मप्र सहित सीमावर्ती इलाकों की खाक छान रही हैं। इसके बाद भी पथरिया विधायक रामबाई के पति का सुराग नहीं मिल पाया है।

दो साल पहले हुई थी हत्या…
बता दें कि कांग्रेस नेता देवेंद्र चौरसिया की हत्या 2019 में मार्च महीने में हुई थी। यहां 3-4 कारों में लोग भरकर आए और देवेंद्र चौरसिया को मौत के घाट उतार दिया था। इस केस में दमोह जिले की पथरिया सीट से विधायक रामबाई के पति गोविंद सिंह और उनके देवर का नाम भी सामने आया था। हालांकि अभी तक पुलिस दोनों को गिरफ्तार नहीं कर सकी है। इसी को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को फटकार लगाई है। अभी तक पुलिस 13 लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर चुकी है। साथ ही छापेमारी के साथ औसतन रोजाना 50 लोगों से पूछताछ भी की जा चुकी है। इसके बाद भी 50 हजार रुपए का इनामी आरोपी गोविंद सिंह पुलिस के शिकंजे से बच रहा है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password