Monsoon News: रूठे इंद्रदेव को मनाने गधे पर बारात और जिंदा आदमी की अर्थी निकाल रहे लोग

झाबुआ। प्रदेश में जून के महीने में काफी बारिश देखने को मिली है। हालांकि अभी बीते दिनों से प्रदेश में बारिश नहीं हो रही है। वहीं प्रदेश के कई जिलों में जून के महीने में भी बारिश नहीं हुई है। इन जिलों में अभी भी साखा पड़ा है। इन्ही जिलों में से झाबुआ जिले में भी इस साल बारिश नहीं हो पाई है। अब यहां के इंद्र देव को प्रसन्न करने के लिए तरह-तरह के जुगत लगा रहे हैं। यहां के लोग बारिश के देवता इंद्र भगवान को प्रसन्न करने के लिए टोने-टोटकों का भी सहारा लेने लगे हैं। झाबुआ में लोगों ने जिंदा आदमी की अर्थी निकाली और आदमी को गधे पर बैठाकर बारात की भी फेरी लगाई।

यहां के रहवासियों का मानना है कि इस तरह के टोटकों से बारिश के भगवान इंद्र देव प्रसन्न होते हैं और बारिश कराते हैं। बता दें कि प्रदेश के 8-10 जिलों में अच्छी बारिश नहीं हो पाई है। जून के महीने में प्रदेश के कई जिलों में तेज बारिश देखने को मिली है। इसके बावजूद भी कई जिले सूखे पड़े हुए हैं। वहीं किसानों ने खरीफ की फसल भी बो दी है। अब बीते दिनों से बारिश भी थम गई है। मानसून के इस सीजन में चिलचिलाती धूप और तेज गर्मी किसानों की फसल के लिए कहर बन रही है। किसानों ने सोयाबीन समेत खरीफ की फसलों की बोनी कर दी है। अब तेज गर्मी के कारण फसलें खराब होने लगी हैं। फसलों का पानी नहीं मिल पा रहा है।

सुस्त पड़ी मानसून की रफ्तार…
बता दें कि प्रदेश समेत कई राज्यों में जून के महीने में जोरदार बारिश देखने को मिली है। हालांकि बीते कुछ दिनों से मानसून की रफ्तार सुस्त पड़ गई है। मप्र में भी जून के महीने में तेज बारिश देखने को मिली है। वहीं पिछले दिनों से तेज धूप के साथ गर्मी पड़ रही है। हालांकि मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में शहडोल, जबलपुर, सागर, भोपाल, ग्वालियर और उज्जैन समेत कई जिलों में हल्की बारिश की संभावना जताई है। इसके साथ ही जबलपुर और सागर संभाग के जिलों में तेज हवाओं के साथ बिजली चमकने के भी आसार जताए हैं। बता दें कि मानसून के सूखे पड़ने से फसलों का काफी नुकसान हो रहा है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password