जिस घोड़े को थपथपाते नजर आए थे प्रधानमंत्री, जानिए उसकी कहानी

virat horse

नई दिल्ली। गणतंत्र दिवस के मौके पर हर साल, राजपथ पर परेड का आयोजन किया जाता है। इस दौरान भारत के सैन्य ताकत से लेकर सांस्कृतिक, पारंपरिक विरासत को भी प्रदर्शित किया जाता है। 73वें गणतंत्र दिवस के मौके पर भी राजपथ पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सेना और सशस्त्र बलों की सलामी ली। साथ ही इस दौरान कुल 25 झांकिया भी प्रदर्शित की गई। लेकिन इस दौरान सबसे खास रहा एक घोड़े का रिटायर होना। राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और रक्षा मंत्री ने मिलकर उसे दुलारा।

विराट है इसका नाम

बता दें कि इस घोड़े का नाम है विराट (Virat) जो अब तक 13 बार गणतंत्र दिवस परेड में शामिल हो चुका है। विराट अपनी योग्यता और सेवा के कारण कई बार सम्मानित भी हो चुका है। मालूम हो कि विराट को राष्ट्रपति के अंगरक्षक दल का काफी अहम सदस्य माना जाता है। उसे प्रेजिडेंट्स बॉडीगार्ड का चार्जर भी कहा जाता है। इस साल सेना दिवस के मौके पर चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ कमेंडेशन कार्ड से बी सम्मानित किया गया था।

virat horse
virat horse

इस नस्ल का है विराट

मिडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, विराट हेमपुर स्थित रिमाउंट ट्रेनिंग स्कूल से वर्ष 2003 में राष्ट्रपति के अंगरक्षक दल में शामिल हुआ था। वह होनोवेरियन नसस्ल का घोडा है। विराट को संभालने वाले अफसर का कहना है कि पिछले साल गणतंत्र दिवस परेड और बीटिंग द रिट्रीट समारोह में विराट ने बुढ़ापे के बावजूद अच्छा प्रदर्शन किया था।

virat horse
virat horse

अफसर का क्या कहना है?

उन्होंने विराट पर सवार होकर राष्ट्रपति को अब तक चार बार परेड में सलामी दी है। अफसर का कहना है कि उनके लिए यह गर्व की बात है । विराट ने उन्हें पहली बार नवर्स होने से भी बचाया था। उनके मुताबिक विराट बाकी सभी घोड़ो से अलग है।

virat horse
virat horse
Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password