दुनिया का इकलौता गांव जो बसा है धरती के नीचे, जानिए क्या है इसकी खासियत

Coober Pady

नई दिल्ली। आपने अंडरग्राउंड घर, मैट्रो और फौज के बंकर के बारे में सुना होगा। लेकिन क्या कभी आपने ऐसे गांव के बारे में सुना है जो पूरी तरह से अंडरग्राउंड बसा है। बतादें कि दुनिया में एक ऐसा भी गांव है जो पूरी तरह से अंडरग्राउंड है। यह गांव ऑस्ट्रेलिया में मौजूद है जो पूरी तरह से अदृश्य है।

जमीन के सैंकड़ों फिट नीचे सबकुछ है मौजूद

इस गांव का नाम कूबर पेडी (Coober Pady) है। जिसे दुनिया का अनोखा गांव कहा जाता है। गौरतलब है कि इस गांव की 70 फीसदी आबादी अंडरग्राउंड रहती है। यहां के घर और दफ्तर जमीन से सैकड़ों फिट नीचे बसे हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार यहां के निवासियों ने अपने घर और ऑफिस के साथ अपने बिजनेस आउटलेट्स भी इसी अंडरग्राउंड विलेज में बना रखे हैं। इस गांव में अंडरग्राउंड चर्च, सिनेमाघर, म्यूजियम, आर्ट गैलरीज, एक बार और होटल भी मौजूद हैं।

Coober Pady

सफेद चट्टानों के लिए प्रसिद्ध है यह गांव

मालूम हो कि यहां ओपल यानी सफेद दूधिया पत्थर की चट्टानें हैं, ये चट्टानें पूरी दुनिया में निर्यात की जाती हैं। अकेले कूबर पेडी में ही 70 से ज्यादा ओपल फील्ड्स हैं और ओपल माइनिंग के लिए यह दुनिया में सबसे बड़ा क्षेत्र है। यहां के अंडरग्राउंड सिस्टम खदानों को ध्यान में रखकर बनाया गया था। पहले यहां मजदूर रहा करते थे। धीरे-धीरे यहां के घर पूरी तरह से फिर्निश्ड और सारी सुविधाओं से लैस हो गए।

Coober Pady

गांव में 3500 से भी ज्यादा लोग रहते हैं

इस गांव में 1500 घर हैं, जिनमें 3500 से ज्यादा लोग रहते हैं। इन घरों को डर आउट्स कहा जाता है। इन घरों की सबसे खास बात यह है कि यहां गर्मी में न तो AC की जरूरत होती है और न ही सर्दी में हीटर की। जमीन के अंदर होने के चलते यहां का तापमान हमेशा आरामदायक रहता है। अंडरग्राउंड कूबर पेडी गांव में सारी सुविधाएं मौजूद है। जैसे स्टोर, बार, कैसीनो, म्यूजियम और चर्च और बहुत कुछ। यहां कई हॉलीवुड फिल्मों की शूटिंग भी हो चुकी है। ‘पिच ब्लैक’ फिल्म की शूटिंग के बाद प्रोडक्शन ने फिल्म का स्पेसशिप यहीं छोड़ दिया था और अब यह पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र बन चुका है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password