पूर्व पार्षद के भतीजे की हत्या, पैसे के लेनदेन के चलते दोस्तों ने की थी साजिश

रायपुर: राजधानी के खमतराई से पूर्व कांग्रेस पार्षद राधेश्याम विभार के भतीजे की लाश सूटकेस में बंद मिली, जिसके बाद पुलिस प्रशासन में हलातौल मच गई। पुलिस जांच में मामले का खुलासा हुआ कि कांग्रेस नेता के भतीजे की हत्या उसके दोस्त ने ही की थी, शव मिलने के तीन घंटे के भीतर पुलिस एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। जबकि एक अन्य आरोपी फरार है, जिसकी तलाश पुलिस कर रही है। शुरुआती जांच में ये पता चला है, कि हत्या की वजह पैसे का लेनदेन है।

दरअसल, खम्हारडीह थाना क्षेत्र स्थित चंडी नगर के सूनसान इलाके के रहवासियों ने कुएं में एक सूटकेस देखा। उस सूटकेस में काफी बदबू आ रही थी, जिसके बाद इसकी सूचना पुलिस का दी गई। सूचना मिलने के बाद मौके पर खम्हराडीह पुलिस और एफएसएल की टीम मौके पर पहुंची। जांच में मृतक की पहचान जतिन चांद के रूप में हुई। मृतक खमतराई के कांग्रेस पार्षद का सगा भतीजा है, जिसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट नौ फरवरी को खमतराई थाने में लिखाई गई थी।

नौ फरवरी से गायब था जतिन

परिजनों की सूचना पर नौ फरवरी को खमतराई थाने में जतिन की गुम इंसान की रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। जिसके 6 दिन बाद अब उसकी लाश चंडी नगर स्थित एक कुएं में बद सूटकेस में मिली थी। जतिन के दोस्त राहुल दुर्गे ने बताया कि जतिन के गायब होने के एक दिन पहले की वह अपनी गाड़ी गिरवी रखने पहुंचा था। वहां राहुल ने उसकी मदद करते हुए जतिन को गाड़ी को एक परिचित के पास छह हजार रुपयों में गिरवी रखवाई थी। इसके दूसरे दिन से जतिन गायब था। जिसके बाद उसकी लाश सूटकेस में बंद मिली।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password