प्रदेश में बाढ़ को लेकर कांग्रेस पर बरसे गृह मंत्री, बोले- कांग्रेस के समय सड़कों पर गड्ढे नहीं बल्कि गड्ढों में हुआ करती थी सड़क

भोपाल। गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) ने शुक्रवार सुबह चार इमली स्थित अपने आवास पर मीडिया से चर्चा की। चर्चा के दौरान नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि आज गुना अशोकनगर में भारी बारिश की संभावना है। शिवपुरी श्योपुर में भारी बारिश नहीं होगी। आज होने वाली कैबिनेट की बैठक को लेकर कहा कि बैठक में बाढ़ के बाद उपजे हालातों पर चर्चा की जाएगी। प्रदेश में बाढ़ राहत में शिथिलता को लेकर कांग्रेस के आरोप पर बोलते हुए कहा कि कांग्रेस ऐसा दिखा रही है कि कमलनाथ और दिग्विजय ही बाढ़ पीड़ित इलाकों में सेवा कर रहे हैं और मुख्यमंत्री और उनका मंत्रिमंडल आराम कर रहा है जनता सब कुछ जानती है। वहीं करोना के नए मरीजों को लेकर गृह मंत्री ने कहा कि प्रदेश में कोरोना के 18 नए मरीज मिले है।

काबू में बाढ़ के हालात

17 मरीज ठीक होकर वापस लौटे हैं। गृह मंत्री ने कांग्रेस में मध्यप्रदेश के फैसले दिल्ली में लिए जाने पर सवाल उठाए और कहा कि कमलनाथ को कभी मध्यप्रदेश से मोह ही नहीं रहा। वहीं प्रदेश में बारिश के कारण सड़कों पर गड्ढे होने पर अरुण यादव और दिग्विजय सिंह द्वारा सड़कों पर गड्ढों की फोटो डालने पर गरह मंत्री ने कहा कि दिग्विजय सिंह को खुद का कार्यकाल याद आ गया जब सड़कों में गड्ढे नहीं गड्ढों में सड़क होती थी। वहीं 1 दिन पहले राजगढ़ में एक महिला पुलिसकर्मी द्वारा बाढ़ में फंसी गर्भवती महिला का प्रसव कराने पर गृह मंत्री ने पुलिसकर्मी महिला की सराहना की और कहा कि राजगढ़ में बाढ़ में फंसी महिला का प्रसव कराने वाली महिला पुलिसकर्मियों को सम्मान दिया जाएगा।

प्रदेश में नए गुंडा एक्ट को लेकर कहा
अभी केवल इस पर विचार चल रहा है, कोई फैसला नहीं हुआ।कमलनाथ द्वारा मूंग खरीदी का कोटा बढ़ाए जाने पर बोले हाथ में मूंग लेकर चले जाओ तो कमलनाथ उसे पहचान तक नहीं पाएंगे केवल राजनीति के लिए कर रहे हैं। प्रदेश के कई जिलों में भारी बारिश ने जमकर तबाही मचाई है। सैकड़ों गांव पानी में डूब गए हैं। करीब 5 हजार लोगों का रेस्क्यू किया जा चुका है। वहीं एक दर्जन से ज्यादा लोगों की भीषण बारिश की चपेट में आकर मौत हो गई है। पिछले दिनों से मूसलाधार बारिश (Shivpuri Me Badh) का कहर जारी है। कई जिलों में सैकड़ों गांव पानी में डूब गए हैं। वहीं हजारों लोगों को बाढ़ क्षेत्र से रेस्क्यू किया गया है। रेस्क्यू ऑपरेशन अभी भी जारी है। इसके साथ ही भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने मध्य प्रदेश के (Flood In MP) छह जिलों में भारी से बहुत भारी बारिश की आशंका जताते हुए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग (IMD Bhopal) ने मध्य प्रदेश के 17 जिलों में भारी बारिश का अनुमान जताते हुए येलो अलर्ट भी जारी किया है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password