खाशोगी पर बनी डॉक्यूमेंट्री के निर्देशक को इसके प्रदर्शन में मुश्किलों का था अहसास

न्यूयॉर्क, छह जनवरी (एपी) सनडांस फिल्म महोत्सव में ‘द डिसिडेंट’ के प्रदर्शन के पहले से ही इसके निर्देशक ब्रायन फोगेल को आशंका थी कि पत्रकार जमाल खाशोगी पर बनी डॉक्यूमेंट्री को दर्शकों के लिए सामने लाने में मुश्किलें होंगी।

पिछले साल जनवरी में सनडांस फिल्म महोत्सव में ‘द डिसिडेंट’ बहुप्रतीक्षित फिल्मों में से एक थी। इससे पहले, ओलंपिक में डोपिंग पर आधारित फोगेल की ‘इकारस’ को सर्वश्रेष्ठ डॉक्यूमेंट्री का एकेडमी अवार्ड मिला था।

‘द डिसिडेंट’ में खाशोगी की हत्या से संबंधित ऑडियो रिकॉर्डिंग, खशोगी की मंगेतर हैटिस सेनगीज की भागीदारी और अमेजन के संस्थापक जेफ बेजोस के सेलफोन को हैक करने समेत सऊदी अरब की भूमिका का भी जिक्र किया गया है।

सनडांस महोत्सव में दर्शकों में अमेरिका की पूर्व विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन और नेटफ्लिक्स के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रीड हेस्टिंग्स भी थे।

डॉक्यूमेंट्री के प्रदर्शन के दौरान फोगेल ने मीडिया कंपनियों से फिल्म की विषयवस्तु से नहीं घबराने को कहा। उन्होंने कहा, ‘‘मेरा सपना है कि वितरक सऊदी अरब के खिलाफ एकजुटता दिखाएं।’’

फोगेल ने उम्मीद जतायी कि नेटफ्लिक्स, अमेजन, एचबीओ और दूसरे ऑनलाइन प्लेटफॉर्म इस डॉक्यूमेंट्री को दिखाने के लिए आगे आएंगे और दुनिया भर के दर्शक खाशोगी की कहानी को देख पाएंगे।

करीब 2000 सिनेमाघरों में प्रदर्शन के बाद ‘द डिसिडेंट’ आईट्यून्स, अमेजन और रोकू जैसे ऑनलाइन मंचों पर मांग के आधार पर प्रदर्शित की जाएगी।

सऊदी अरब सरकार की नीतियों के आलोचक रहे खाशोगी की इस्तांबुल में दो अक्टूबर 2018 को हत्या कर दी गयी थी।

एपी सुरभि नरेश

नरेश

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password