सरपंच पति की मौत के बाद तनाव की स्थिति, विहिप नेताओं के वाहनों पर पथराव, बड़ी संख्या में पुलिस पहुंची

विदिशा। प्रदेश के विदिशा जिले में आने वाले गांव मुरवास में सरपंच आशाबाई के पति संतराम धौलपुरिया की मौत के बाद रविवार को तनाव की स्थिति बन गई। यहां पहुंचे विश्व हिंदू परिषद (विहिप) नेताओं के वाहनों पर जमकर पत्थर बरसे। यहां दर्जनों की संख्या में आए लोगों ने विहिप नेताओं के वाहन को घेर लिया और पत्थरबाजी शुरू कर दी। इस बीच गोली चलने की भी जानकारी मिली है। विहिप नेताओं को पुलिस थाने लेकर आई। इसके बाद सैकड़ों की संख्या में दूसरे पक्ष के लोगों ने थाने का घेराव कर दिया। इस बीच घेराव करने वालों की मदद के लिए लटेरी से भी काफी संख्या में लोग पहुंचे और प्रदर्शन करने लगे। प्रदर्शन के दौरान विहिप नेता मुरवास थाने में रुके रहे। प्रदर्शनकारी विहिप नेताओं के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे और दूसरी तरफ प्रशासन की तरफ से की गई अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई से भी नाराज थे। मामले की गंभीरता को देखते हुए मुरवास में भारी संख्या में जिला मुख्यालय से पुलिस बल रवाना कर दिया है। मौके पर स्थिति काबू में आ गई है।

यह है पूरा मामला…
दरअसल विदिशा जिले में आने वाली लटेरी तहसील के गांव मुरावास में बीते गुरुवार सरपंच आशाबाई के पति संतराम धौलपुरिया की ट्रैक्टर से कुचलकर मौत हो गई थी। दोपहर में संतराम गांव की ही एक गली से जा रहे थे इसी दौरान रिजवान नाम के आरोपी ने संतराम ने ट्रैक्टर से टक्कर मार दी थी। जिससे संतराम की मौत हो गई थी। घटना के बाद ही आरोपित ने मौके से भागने का प्रयास किया था। हालांकि पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। जिले के एसपी वर्मा ने बताया था कि दोनों पक्षों के बीच वनभूमि के कब्जे को लेकर विवाद था। इसके बाद से ही क्षेत्र में तनाव फैला हुआ था। अब रविवार को विहिप नेताओं के वाहनों पर भी जमकर पथराव हुआ है। हालांकि पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मामला कंट्रोल में ले लिया है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password