Sushant death case: आखिर ऐसा क्या था उस पेंटिंग में? जिसे देख अजीब बर्ताव करने लगे थे सुशांत

मुंबई: सुशांत सिंह राजपूत केस में रोज नए-नए खुलासे हो रहे हैं। फिलहाल इस मामले में ED और CBI दोनों ही जांच कर रही हैं। इस बीच सुशांत के परिवार, बिहार पुलिस और मुंबई पुलिस में अब भी आरोप प्रत्यारोप का दौर चल रहा है। वहीं सुशांत को लेकर रिया चक्रवर्ती से लगातार पूछताछ चल रही है। जिसमें उन्होंने अब यह दावा किया है कि सुशांत की बिगड़ी मानसिक स्थिति का कारण एक पेंटिंग है जो कि उन्होंने इटली ट्रिप पर देखी थी।

जी हां, एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती ने पूछताछ के दौरान बताया कि उन्हें सुशांत की बिगड़ी मानसिक स्थिति का अंदाजा तब लगा जब वे दोनों इटली गए थे। रिया का कहना है कि साल 2019 अक्टूबर में वे दोनों इटली गए थे जहां सुशांत ने फ्लोरंस के एक होटल में एक पेंटिंग देखी थी, जिसे देखकर वे काफी विचलित हो गए थे। रिया का कहना है कि इस तस्वीर को देखने के बाद सुशांत के व्यवहार में भी काफी बदलाव आ गया और उन्हें इस ट्रिप को बीच में ही कैंसिल करके लौटना पड़ा। हालांकि इस बात में कितनी सच्चाई है इसका पता तो जांच एजेंसियों की जांच के बाद ही पता चलेगा। लेकिन जिस पेंटिग के बारे में बात हो रही है आइए जानते हैं आखिर उस तस्वीर में ऐसा क्या था…

बेटे को खाते शनिदेव की पेटिंग ‘Saturn Devouring His Son’

रिया के दावे के अनुसार सुशांत की जिस पेंटिंग को देखकर मानसिक स्थिति बीगड़ी थी वह पेंटिंग शनिदेव की है जो अपने बच्चे को ही खा रहे हैं। यह पेंटिंग स्पेन के मशहूर आर्टिस्ट फ्रांसिस्को गोया ने बनाई थी। गोया ने इस पेंटिंग को ‘Saturn Devouring His Son’ नाम दिया था। यह पेंटिंग 1819 से 1823 के बीच तैयार की गई थी। इसकी Original Painting को मैड्रिड के संग्रहालय Museo del Pardo में सहेजकर रखा गया है।

पौराणिक कथा पर आधारित है पेंटिंग 

गोया द्वारा बनाई गई यह पेंटिंग यूनान यानी ग्रीस की एक पैराणिक कथा पर आधारित है। प्रचलित ग्रीक माइथालजी टाइटन क्रोनस Titan Cronus की है जिसे रोमन में सैटर्न या शनिदेव कहा गया। इस पेंटिंग में शनिदेव अपने बेटे को खाते हुए दिखाए गए हैं। क्योंकि शनिदेव को डर था की किसी दिन उनका बेटा ही उन्हें राजगद्दी से हटा देगा। इसी डर से शनिदेव अपने बेटे को जन्म लेतु हुए उसे खाने लगे।

इंटरनेट पर छा गई थी पेंटिंग

दरअसल, यह पेंटिंग गोया की 14 मशहूर ब्लैक पेंटिंग्स में एक है। उन्होंने ये सारे पेंटिंग्स अपने घर की दीवारों पर लगाकर रखते थे। गोया ने मृत्यु से पहले अपना मकान अपने पोते के नाम कर दिया। बाद में मकान के मालिक बदलते गए। इस दौरान पेटिंग की ठीक तरह देखभाल नहीं हुई। आखिरकार 70 साल तक दीवार पर टंगे रहने के बाद इसे म्यूजियम में रख दिया गया। इस पेंटिंग ने 2010 में इंटरनेट पर धूम मचाई थी। तब इसके फोटोशॉप इमेज इंटरनेट पर छा गए थे।
Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password