Summer Vacation: सरकारी स्कूलों में 15 अप्रैल से शुरू हो रहा ग्रीष्मकालीन अवकाश, 13 जून को फिर खुलेंगे स्कूल…

भोपाल। प्रदेश में कोरोना महामरी का संक्रमण थमने का नाम नहीं ले रहा है। कोरोना के कारण इस साल का शिक्षण सत्र भी काफी प्रभावित रहा है। अब कोरोना की दूसरी लहर भी प्रदेश सहित पूरे देश में फैल रही है। ऐसे में प्रदेश के शिक्षा विभाग ने सरकारी स्कूलों में ग्रीष्मकालीन अवकाश की घोषणा कर दी है। अब प्रदेश में सरकारी स्कूलों में 15 अप्रैल से 13 जून तक के लिए ग्रीष्मकाली  अवकाश घोषित कर दिया है। इन स्कूलों में पदस्थ शिक्षकों के लिए ग्रीष्मकालीन अवकाश रहेगा।

इस संबंध में मप्र स्कूल शिक्षा विभाग ने आदेश जारी कर दिया है। इस आदेश में कहा गया है कि शिक्षकों को इस शर्त पर ग्रीष्मकालीन अवकाश दिया जा रहा है कि जब तक बोर्ड परीक्षाएं संपन्न नहीं हो जातीं तब तक शिक्षक मुख्यालय नहीं छोड़ेंगे। शिक्षकों को इस आदेश में कहा गया है कि पर्यवेक्षण या अन्य शासकीय कार्य में ड्यूटी लगाए जाने पर तत्काल रूप से उपस्थित रहेंगे।

मुख्यालय छोड़ने की नहीं होगी अनुमति
साथ ही मुख्यालय छोड़ने से पहले अनुमति लेना भी आवश्यक है। शिक्षा विभाग की उपसचिव अनुभा श्रीवास्तव ने सभी जिलों के कलेक्टर और शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि कोरोना महामारी को ध्यान में रखते हुए 30 अप्रैल तक सभी स्कूलों में कक्षाओं का संचालन बंद रखें। वहीं ऑनलाइन शिक्षण कार्य जारी रहेगा। शिक्षा विभाग ने एक अन्य आदेश में यह भी कहा हा कि सरकारी एवं निजी छात्रावासों को भी तत्काल प्रभाव से बंद किया जाए।

कोरोना महामारी के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए यह फैसला लिया गया है। शिक्षा विभाग ने इस संबंध में सभी जिले के कलेक्टर्स और शिक्षा अधिकारियों सहित प्राध्यापकों को इसके निर्देश दे दिए हैं। शिक्षा विभाग ने यह भी कहा कि प्रदेश के जिन जिलों में टोटल लॉकडाउन लगा है इस कारण छात्रों को सकुशल उनके घर भेजने की व्यवस्था भी की जाए। सरकारी स्कूलों के बोर्ड परीक्षाओं के छात्रों की प्रीबोर्ड परीक्षा की कॉपी घर के ही नजदीक स्कूल में जमा कराने की सलाह दें।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password