Good News: बेटी के भविष्य की आपको भी है चिंता? तो सरकार की इस योजना में निवेश कर हो जाएं बेफिक्र

नई दिल्ली। देशभर में केंद्र सरकार द्वारा आम आदमी की मदद के लिए कई तरह की योजनाएं बनाई जाती है। उन्हीं योजना में से एक है सुकन्या समृद्धि योजना लेकिन इस योजना का लाभ वही लोग ले सकते हैं जिनके घर में छोटी बच्ची है। अगर आप भी बेटी के पिता हैं या आपके घर में भी एक छोटी बच्ची है तो आप भी केंद्र सरकार की सुकन्या समृद्धि योजना में उसकी पढ़ाई या शादी के लिए निवेश कर सकते हैं। आइए जानते हैं केंद्र सरकार की इस सुकन्या समृद्धि योजना के बारे में सब कुछ

क्या है सुकन्या समृद्धि योजना
सुकन्या समृद्धि योजना केंद्र सरकार की एक ऐसी योजना है जो खास तौर पर बेटियों के लिए बनाई गई है। इस योजना को सरकार की बेटी बचाओं बेटी पढ़ाओं स्कीम को ध्यान में रखते हुए बनाया गया है। इस योजना का लाभ वे लोग ले सकते हैं जिनके घर में छोटी बच्ची हो। सुकन्या समृद्धि योजना की खास बात यह है कि यह छोटे से निवेश के साथ शुरू होने वाली सबसे बेहतर ब्याज दर वाली योजना है। वहीं इस योजाना को मुख्य रूप से उन परिवार के लिए बनाया गया है, जिनकी आय कम है और जो अपनी बच्चियों की पढ़ाई और शादी के लिए बचत करना चाहते हैं।

कैसे ले सकते हैं इस योजना का लाभ
इस योजना का लाभ वह लोग ले सकते हैं जिनके घर में बेटी ने जन्म लिया हो, वहीं इस योजना का लाभ बेटी के जन्म के तुरंत बाद से लेकर 10 वर्ष तक लिया जा सकता है यानी आपके घर में अगर बेटी का जन्म हुआ है तो उसके जन्म लेने के बाद 10 साल से पहले इस योजना के तहत आप 250 रुपये जमा कर के खाता खोल सकते हैं। वहीं खाते में पैसे जमा करने की अधिकतम सीमा 1.5 लाख रुपये रखी गई है। सुकन्या समृद्धि योजना के तहत अपने अकाउंट को किसी भी पोस्ट ऑफिस से खुलवा सकते हैं। सुकन्या समृद्धि योजना खाता बेटी के जन्म के बाद से 10 वर्ष तक खोला जा सकता है वहीं इस खाते को बच्ची के 18 वर्ष से उसकी शादी तक चलाया जा सकता है। इस योजना की खास बात यह है कि बेटी के 18 वर्ष पूरे होने के बाद आप उसकी शिक्षा के लिए खाते से 50 फीसदी रकम निकाल सकते हैं। बची 50 फीसदी रकम बेटी की शादी में निकाली जा सकती है।

जरूरी दस्तावेज और नियम
सुकन्या समृद्धि योजना खाता खोलने के लिए आपको कुछ जरूरी दस्तावेज भी जमा करने होंगे जैसे खाता खोलने के समय बच्ची के बर्थ सर्टिफिकेट के साथ उसके माता-पिता का पहचान प्रमाण पत्र जमा करवाना अनिवार्य है। इस योजना में कुछ नियम भी बनाए गए हैं जिसके मुताबित एक बच्ची का एक ही खाता खोला जा सकता है। अगर आपके घर में एक बेटी है और आप इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो ऐसे में आप उसका एक ही खाता खोल सकते हैं, ऐसे में एक से ज्यादा खाते खोलने की अनुमति इस योजना में नहीं है। नियम के अनुसार माता-पिता द्वारा अधिकतम दो बच्चियों के नाम पर खाता खुलवाया जा सकता है।

इतनी रकम से खुलेगा खाता
सुकन्या समृद्धि योजना खाते को आप 250 रूपये से शुरू कर सकते हैं। 250 रूपए जमा करने के बाद आप इस खाते में 100 रुपये भी जमा कर सकते हैं हालांकि आपको . किसी एक वित्त वर्ष में 250 रूपए जमा करना ही होगा। वहीं इस अकाउंट में आप एक वर्ष में एक बार में 1.5 लाख रुपये से ज्यादा जमा नहीं करवा सकते हैं। वहीं इस खाते को आप बच्ची के 15,18 या उसकी शादी तक चला सकते हैं। इस खाते से आप 50 फीसदी रकम को बच्ची के 18 साल पूरे होने के बाद उसकी पढ़ाई के लिए उपयोग कर सकते हैं वहीं बची हुई रकम उसकी शादी के समय निकाल सकते हैं।

इस तरह जमा करें रकम
आप इस खाते में बड़े ही आराम से पैसे जमा कर सकते हैं इस अकाउंट में आप चेक,कैश या फिर डिमांड ड्राफ्ट से पैसे जमा कर सकते हैं। वहीं इस अकाउंट में पैसे जमा करने के लिए आपको कुछ नियमों का पालन करना होगा जैसे पैसे जमा करते समय आपको एक फॉम भरना होगा जिसमें जो भी व्यक्ति इस अकाउंट में पैसे जमा कर रहा है उसका नाम देना होगा साथ ही जिसके नाम पर खाता खुला है उसका भी नाम देना जरूरी है। इस खाते में आप इंटरनेट बैंकिंग से भी रकम जमा कर सकते हैं। अगर किसी कारण से आप रकम जमा करने में असमर्थ रह जाते हैं तो ऐसे में आपका अकाउंट बंद हो जाएगा हालांकि आप आवश्यक न्यूनतम राशि के साथ 50 रुपये प्रति वर्ष के पेनल्टी से अपने अकाउंट को रिवाइज भी कर सकते हैं। वहीं एक अकाउंट का रिएक्टिवेशन अकाउंट खुलने के 15 साल बाद तक किया जा सकता है।

मिलेगी यह सुविधा
सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खाताधारक को खास सुविधा भी दी जाती है। इस योजना में खाताधारक देशभर में कहीं भी अपना खाता ट्रांसफर करवा सकता है। अकाउंट ट्रांसफर करवाने की यह सुविधा प्री ऑफ कास्ट है। लेकिन खाताधारक को इसके लिए अपना शिफ्ट होने का सबूत दिखाना पड़ेगा। अगर किसी कारण से सबूत नहीं है तो ऐसे में बैंक को 100 रूपए की फीस देकर भी अकाउंट को ट्रांसफर किया जा सकता है। वहीं अकाउंट ट्रांसफर को खाताधारक पोस्ट ऑफिस या बैंक से कर सकता है इसके अलावा इस अकाउंट को ऑनलाइन तरीके से भी ट्रांसफर किया जा सकता है।

इतने मिलेंगे पैसे
अगर इस योजना के तहत आप साल में 36000 रूपए निवेश करते हैं आपको 14 साल बाद 9 लाख रूपए का लाभ मिल सकेगा। वहीं 21 साल बाद मेच्योरिटी पर यह रमक कुल 15,22,221 रूपए तक हो जाएगी। इस योजना की खास बात यह है कि इसमें आम आदमी भी निवेश कर सकता है। सरकार ने मुख्य रूप से इस योजना की शुरूआत आम आदमी को ध्यान में रख कर ही की है। जिससे सामान्य वर्ग का आदमी निवेश करके अपनी बेटी की शिक्षा और शादी कर सकें

योजना को लेकर पूछा जानें वाले सवाल

1. कौन खुलवा सकते है अकाउंट

इस योजना में सबसे ज्यादा एक ही प्रश्न पूछा जाता है कि आखिर सुकन्या समृद्धि अकाउंट कौन खुलवा सकता है। आपको बता दें कि जिसके घर बेटी ने जन्म लिया है या बच्ची के कानूनी अभिभावक इस योजना का लाभ ले सकते हैं।

2.क्या अकाउंट खुलवाने वाले को भारत का होना जरूरी है?

इस योजना का लाभ लेने से पहले मन में एक सवाल हमेशा आता है कि क्या इस योजना का लाभ उठाने के लिए हमें भारत का नागरिक होना जरूरी हैं। तो आपको बता दें कि इस बारे में अभी सरकार की तरफ से कोई प्रस्ताव नहीं तैयार किया गया है। हालांकि इस योजना का लाभ एनआरआई को नहीं दिया जाता है।

3.बच्ची के साथ दुर्घटना होने पक क्या होगा
अगर योजना के दौरान बच्ची की मृत्यु हो जाती है या कोई दुर्घटना हो जाता है तो यह योजना तुरंत बंद हो जाएगी। साथ ही खाता में जमा सारा पैसा बच्ची के माता-पिता को मिल जाएगा।

4.अकाउंट से कब पैसे निकाल सकते हैं
बता दें कि इस योजना के तहत बच्ची जब 18 वर्ष की हो जाती है तो उसकी शिक्षा या शादी के लिए 50 प्रतिशत पैसों को निकाला जा सकता है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password