संदिग्ध वेबसाइटों से रहें दूर, नहीं तो हो सकता है आर्थिक नुकसान, DoT ने जारी की एडवाइजरी

DoT advisory

नई दिल्ली। आज कल लोग तेजी से ऑनलाइन लेन-देन कर रहे हैं। ऐसे में दूरसंचार विभाग ने सुरक्षित और सर्वोत्तम प्रथाओं को बढ़ावा देने के लिए एक सलाह जारी की है। दरअसल, बढ़ते ऑनलाइन लेन-देने के साथ धोखेबाजों के जाल में पड़ने का जोखिम भी यूजर के सामने बना रहता है। आप भी धोखेबाजों के जाल में न पड़ जाएं, इसलिए दूरसंचार विभाग ने एक एडवाइजरी जारी की है। आइए जानते हैं इस एडवाइजरी में क्या कहा गया है?

इन चीजों का रखे ध्यान

एडवाइजरी में कहा गया है कि किसी भी लिंक पर क्लिक करने से पहले सोचें, क्योंकि बैंक कभी भी केवाईसी अपड़े करने के लिए आपको लिंक नहीं भेजते हैं। इसके अलावा ओटीपी, सीवीवी, PIN जैसे गोपनीय डेटा को बैंक अधिकारियों के साथ साझा न करें। इसके अलावा अपने उपकरणों में कभी भी कोई रिमोट एक्सेस एप्लिकेशन इंस्टॉल नहीं करें।

पैसे मांगे जाएं तो सावधान हो जाएं

एडवाइजरी में खासतौर पर कहा गया है कि अगर आपसे कोई एडवांस या पैसा मांगे तो सावधान हो जाएं। सबसे पहले पैसा मांगने वाले व्यक्ति या कंपनी की साख को सत्यापित करें। संभावित ऑनलाइन धोखाधड़ी से दूर रहने के लिए आप किसी भी व्यक्ति से कोई जानकारी जैसे संपर्क नंबर और संवेदनशील बैंकिंग विवरण किसी कै साथ साझा न करें।
खासतौर पर अपने मोबाइल या सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर महत्वपूर्ण और संवेदनशील जानकारी और पासवर्ड को स्टोर न करे। अगर आवश्यक हो , तो किसी प्रकार के एन्क्रिप्शन का उपयोग करें।

संदिग्ध वेबसाइटों पर न जाएं

यह भी कहा गया कि पोर्न, जुआ जैसी संदिग्ध वेबसाइटों पर न जाएं, जो आपके फोन को कमजोर बना सकती हैं और इससे जबरन वसूली, वित्तीय नुकसान हो सकता है। एडवाइजरी में लोगों से अज्ञात वाई-फाई नेटवर्क का उपयोग करने से बचने का भी आग्रह किया गया है। साथ ही कहा गया है, ऐसे नेटवर्क का इस्तेमाल करके वित्तीय लेनदेन न करें।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password