कोलकाता में हुई भाजपा की रैली से नदारद रहे सोवन चटर्जी

कोलकाता, चार जनवरी (भाषा) भारतीय जनता पार्टी के कोलकाता जोन के पर्यवेक्षक एवं शहर के पूर्व महापौर सोवन चटर्जी सोमवार को उस रोड शो से नदारद रहे, जिसका उन्हें नेतृत्व करना था।

भाजपा सूत्रों ने कहा कि चटर्जी अपने दोस्त बैसाखी बनर्जी की अचानक तबीयत खराब होने के चलते रोडशो में शामिल नहीं हो सके।

इससे पहले भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा था कि चटर्जी पुलिस की अनुमति नहीं मिलने के बावजूद रोड शो का नेतृत्व करेंगे।

भाजपा के वरिष्ठ नेताओं कैलाश विजयवर्गीय, मुकुल रॉय और अर्जुन सिंह के नेतृत्व में यह रोडशो खिदरपुर के निकट चल रही टीएमसी की नुक्कड़ सभा के पास से गुजरा।

भाजपा ने आरोप लगाए कि टीएमसी कार्यकर्ताओं ने पार्टी नेताओं के काफिले की ओर जूते और कार्यकर्ताओं की ओर कुर्सियां फेंकीं।

पुलिस ने भाजपा की युवा इकाई भारतीय जनता युवा मोर्चा के कुछ कार्यकर्ताओं को टीएमसी कार्यकर्ताओं की ओर जाने से रोककर झगड़ा होने से रोक दिया।

करीब 100 मोटर साइकिलों और फूलों से सजे ट्रकों के साथ वातकुंज रोड से रैली निकली और अलीपुर से गुजरते हुए हेस्टिंग्स में भाजपा के चुनाव कार्यालय पर खत्म हुई। यह रैली मध्य कोलकाता में पार्टी की राज्य इकाई के मुख्यालय पर खत्म होनी थी।

भाजपा नेता मुकुल रॉय ने कहा कि यह रोडशो टीएमसी के ”कुशासन” के खिलाफ निकाला गया है।

पार्टी के प्रवक्ता सामिक भट्टाचार्य ने कहा कि हर नेता और कार्यकर्ता टीएमसी को सत्ता से बाहर करने के जन आंदोलन का हिस्सा है और यह किसी एक व्यक्ति पर केन्द्रित नहीं है।

राज्य के शहरी विकास एवं निगम मामलों के मंत्री तथा कोलकाता के महापौर फरहाद हाकिम ने टीएमसी कार्यकर्ताओं द्वारा जूते और कुर्सियां फेंके जाने के भाजपा के आरोपों को खारिज करते हुए कहा, ”हमारे पास और भी महत्वपूर्ण काम है, लिहाजा भाजपा के रैली निकालने से हमें कोई फर्क नहीं पड़ता।”

भाषा

जोहेब दिलीप

दिलीप

जोहेब

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password