रिलायंस होम फाइनेंस के लिये छह बोलीदाताओं ने लगायी बोलियां

नयी दिल्ली, 20 दिसंबर (भाषा) अनिल अंबानी प्रवर्तित रिलायंस समूह की इकाई रिलायंस होम फाइनेंस के लिये कोटक स्पेशल सिचुएशन फंड (केएसएसएफ) और एसेट रिकंस्ट्रक्शन कंपनी (इंडिया) लि. (एआरसीआईएल) समेत छह बोलीदाताओं ने बोलियां जमा की हैं।

सूत्रों के अनुसार केवल दो बोलीदाताओं ने नियमों के अनुरूप और बाध्यकारी बोलियां जमा की है जबकि चार बोलीदाताओं की बोलियां बाध्यकारी न होने के साथ साथ शर्तों के मुताबिक भी नहीं हैं।

उसने कहा कि कर्जदाताओं ने बोली जमा करने की समयसीम बढ़ाकर 31 जनवरी, 2021 तक करने का निर्णय किया है ताकि शर्तों का अनुपालन नहीं करने वाले बोलीदाताओं को शर्त पूरा कर शामिल होने का मौका मिल सके।

हालांकि बाध्यकारी बोलियां जमा करने वाले दोनों बोलीदाताओं ने इस कदम का विरोध किया है और इस तरह की गैर-पारदर्शी प्रक्रिया से हटने की धमकी दी है।

नियमों के अनुरूप और बाध्यकारी बोलियां अमेरिकी की एवेन्यू और एआरसीआईएल से संयुक्त रूप से लगायी है। जबकि दूसरी बोली सूचीबद्ध गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनी (एनबीएफसी) आथम इनवेस्टमेंट एंड इंफ्रास्ट्रक्चर लि. की है।

सूत्रों के अनुसार कोटक स्पेशल सिचुएंशंस फंड (केएसएसएफ) और एसेट केयर एंड रिकंस्ट्रक्शन एंटरप्राइज लि. ने कई शर्तों के साथ गैर-बाध्यकारी बोलियां लगायी हैं। दोनों ने समयसीमा के बाद जांच-पड़ताल के लिये दो महीने का भी समय मांगा है।

दो अन्य बोलीदाताओं भी सशर्त बोलियां लगायी हैं। इनमें संपत्ति पुनर्निर्माण कंपनी इनवेंट और अल्केमिस्ट का नाम है। दोनों ने निविदा के साथ अनिवार्य 10 करोड़ रुपये का बांड नहीं भरा है।

कर्जदाताओं ने 17 दिसंबर, 2020 को हुई बैठक में बोली के लिये समयसीमा दो महीने 31 जनवरी, 2021 तक बढ़ाने का निर्णय किया। साथ ही सभी बोलीदाताओं से संशोधित बोलियां आमंत्रित की ताकि फिर से वे नियम के अनुसार बोली जमा कर सकें।

भाषा

रमण मनोहर

मनोहर

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password