सिंघु बॉर्डर से किसानों की सुरक्षा समिति ने पकड़ा संदिग्ध, बोला- 26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली में गोली चलाने की थी साजिश

Image source: twitter @Ani

नई दिल्ली: कृषि कानूनों के खिलाफ घरना दे रहे किसानों ने सिंघु बॉर्डर से एक संदिग्ध को पकड़ा है। किसानों के अनुसार, उन्होंने जिस संदिग्ध को पकड़ा है, किसान नेता इसे मीडिया के सामने लेकर आए। पकड़े गए संदिग्ध युवक ने सोनीपत के राई थाने के एक पुलिस अधिकारी का नाम लिया है। संदिग्ध का कहना है कि उसे एक पुलिस अधिकारी ने 26 जनवरी को कुछ गलत होने पर मंच पर बैठने वाले चार किसान नेताओं को गोली मारने के निर्देश दिए और नेताओं के फोटो भी साझा किए हैं। हालांकि, इस दावे पर अभी तक सरकार या हरियाणा पुलिस का कोई बयान नहीं आया है। इस व्यक्ति को अब पुलिस के हवाले कर दिया गया है।

बता दें की, केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों के खिलाफ धरना दे रहे किसान 26 मार्च को ट्रैक्टर रैली निकालने पर अड़े हैं। सरकार ने कानून स्थगित करने का प्रस्ताव ठुका दिया है। अब तक किसानों और सरकार के बीच कई बार बातचीत हो चुकी है। लेकिन अब सरकार से 12वें राउंड की बातचीत नाकामयाब होने के बाद किसान संगठनों ने आंदोलन में हिंसा की साजिश रचने का दावा किया है। जिसके बाद अब शुक्रवार को किसान आंदोलन की सुरक्षा समिति ने शुक्रवार की रात सिंघु बॉर्डर से एक व्यक्ति को पकड़ा है।

संदिग्ध ने किया खुलासा- अगर परेड के साथ निकलते किसान तो फायर करने के थे निर्देश

संदिग्ध ने खुलासा करते हुए बताया कि, प्रदर्शनकारी किसानों को गतिविधियां जानने के लिए दो टीमें लगाई गई हैं। किसान हथियार लेकर जा रहे हैं या नहीं, यह सब जानकारियां निकालने के लिए वह 19 जनवरी से सिंघु बॉर्डर पर है। उसने कहा कि 26 जनवरी के दिन उनकी योजना प्रदर्शनकारी किसानों में ही मिल जाने की थी और अगर प्रदर्शनकारी परेड के साथ निकलते तो हमें उनपर फायर करने के निर्देश मिले थे।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password