Maharashtra में ऑपरेशन ‘Lotus’ के संकेत, अमित शाह से मिले NCP चीफ शरद पवार

अहमदाबाद। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह एवं राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के सुप्रीमो शरद पवार तथा राकांपा की अहमदाबाद में हुई मुलाकात से राजनीतिक सरगर्मियां तेज हो गई है। होली पर्व के 1 दिन पहले देश की राजनीति के दो दिग्गज बड़े नेताओं की गुप्त मुलाकात महाराष्ट्र की राजनीति में आने वाले समय में बड़े फेरबदल के संकेत दे रही है। उद्योगपति मुकेश अंबानी की बिल्डिंग एंटलिया के बाहर विस्फोटक से भरी कार बरामद होने के बाद से देश की राजनीति में उबाल आया हुआ है। इसके अलावा महाराष्ट्र में चल रही महाराष्ट्र विकास अगाड़ी गठबंधन को लेकर भी कई तरह की अटकलें चल रही हैं इसी बीच अहमदाबाद में अमित शाह तथा शरद पवार की मुलाकात ने प्रदेश की राजनीति में भविष्य में उथल-पुथल की संभावनाओं को जन्म दे दिया है।

2019 के विधानसभा चुनाव में BJP को सबसे ज्यादा 105 सीटें मिली थीं
महाराष्ट्र में 2019 के विधानसभा चुनाव में भाजपा ने शिवसेना के साथ और कांग्रेस ने NCP के साथ मिलकर लड़ा था। इस चुनाव में भाजपा को 105, शिवसेना को 56, NCP को 54 और कांग्रेस को 44 सीटें मिली थीं। किसी भी दल को स्पष्ट बहुमत नहीं था।

क्या है पूरा मामला?
25 फरवरी को दक्षिण मुंबई के पैडर रोड स्थित एंटीलिया के बाहर विस्फोटक से भरी एक स्कॉर्पियो गाड़ी खड़ी मिली थी। 24 फरवरी की मध्य रात 1 बजे यह गाड़ी एंटीलिया के बाहर खड़ी की गई थी। दूसरे दिन गुरुवार को इस पर पुलिस की नजरें गईं और कार से 20 जिलेटिन की रॉड बरामद की गई थीं। 5 मार्च को इस स्कॉर्पियो के मालिक मनसुख हिरेन का शव बरामद हुआ था। कुछ दिन पहले ही मनसुख ने इस गाड़ी के गुम होने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। जिसके बाद महाराष्ट्र ATS ने मनसुख की हत्या का केस दर्ज कर जांच शुरू की है। 2 हजार से ज्यादा CCTV कैमरों को खंगाला जा रहा है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password