Shashi Tharoor: महिला सांसदों के साथ सेल्फी लेना पड़ा महंगा, कैप्शन से मचा बवाल..

Shashi Tharoor

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता शशि थरूर द्वारा छह महिला सांसदों के साथ एक तस्वीर पोस्ट करने और लोकसभा को काम करने की एक ‘आकर्षक जगह’ बताने संबंधी उनके ट्वीट को लेकर सोमवार को तूफान खड़ा हो गया है और सामाजिक कार्यकर्ताओं ने महिलाओं को ‘वस्तु’ के रूप में निर्दिष्ट करने के लिए उन पर निशाना साधा।

थरूर ने कहा है कि राजनीतिज्ञों के लिए यह महसूस करने का उचित वक्त है कि महिलाएं अपने सौंदर्य से कहीं अधिक हैं।साइबर सुरक्षा ज्ञान प्रदान करने की दिशा में काम करने वाली एक गैर-लाभकारी संस्था, आकांक्षा श्रीवास्तव फाउंडेशन की संस्थापक आकांक्षा श्रीवास्तव ने कहा कि महिलाओं के साथ ‘वस्तु’ के रूप में व्यवहार करना बंद करने की आवश्यकता है और यह मानसिकता बदलने का सही समय है।

उन्होंने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘हम कभी भी पुरुष सांसदों पर नहीं देखते और यह नहीं कहते हैं कि कितना सुंदर जमावड़ा है, फिर उपलब्धि हासिल करने वाली महिला को महिला क्यों कहा जाता है और उन्हें वस्तु क्यों समझा जाता है। हमें लैंगिक तटस्थता तक पहुंचने की जरूरत है, समानता नहीं, बल्कि तटस्थता चाहिए।’’श्रीवास्तव ने कहा, ‘‘उनकी टिप्पणियों को बेहतर शब्द दिये जा सकते थे। उनके पास इतनी अच्छी शब्दावली है, उन्हें इसका बेहतर इस्तेमाल करना चाहिए था।’’

भारतीय सामाजिक जागृति संगठन की एक कार्यकर्ता छवि मेथी ने कहा कि इस मानसिकता को बदलने की जरूरत है कि महिलाएं सिर्फ आकर्षक या सुंदर हो सकती हैं। उन्होंने कहा, ‘‘उनके पास और भी बहुत कुछ है और लोगों को इसे स्वीकार करने और उन्हें वह सम्मान देने की जरूरत है, जिसकी वे हकदार हैं।’’राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए ट्वीट किया, ‘‘आप आकर्षण की वस्तु बनाकर संसद और राजनीति में उनके योगदान को कमतर कर रहे हैं। संसद में महिलाओं को वस्तु के रूप में पेश करना बंद करें।’’

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password