Sharadiya Navratri 2021 : चित्रा नक्षत्र में डोली पर सवार होकर आएंगी मां दुर्गा, अच्छे नहीं हैं संकेत

navratra 2021

नई दिल्ली। इस बार शारदीय नवरात्रि की शुरू चित्रा Sharadiya Navratri 2021 नक्षत्र के साथ होने वाली है। चित्रा नक्षत्र का अर्थ है कि मां शारदा डोली पर सवार होकर आएंगीं। ज्योतिषाचार्यों की मानें तो यह शुभ संकेत नहीं हैं। ऐसी स्थिति में होने वाली शुरूआत अच्छी नहीं मानी जाती है। इस बार शारदीय नवरात्री 9 दिन की बजाए 8 दिन की होंगी।

दरअसल नवरात्र को मां के नौ रूपों के साथ ही जोड़कर देखा जाता है। Sharadiya Navratri 2021 इसी के साथ मां का डोली पर सवार होकर आना भी कुछ खास असर नहीं दिखाएगा। ज्योतिषाचार्य पंडित रामगोविन्द शास्त्री के अनुसार इस दौरान सांसारिक जीवन में उथल—पुथल हो सकती है। रोग—द्वेष भी बढ़ सकते हैं। इस साल शारदीय नवरात्र की शुरूआत 7 अक्‍टूबर से शुरू होने वाली हो जो 15 अक्‍टूबर को दशहरा तक चलेगीं।

क्या कहते हैं ज्योतिष
ज्योतिषायार्चो के अनुसार चित्रा नक्षत्र को गुरुवार (Thursday) के दिन इनकी शुुरूआत होने से ये स्थितियां शुभ नहीं मानी जा रही हैं। जब भी नवरात्र गुरूवार से शुरू होती हैं तो वे मां डोली (Doli) सवार होकर आती हैं। डोली पर मां की सवारी को शुभ नहीं माना जाता है। ऐसी स्थिति हिंसा, प्राकृतिक आपदाएं जैसे भूकंप आदि के संकेत देती हैं।

दिनों की गणना नहीं है सही
ज्योतिष की नजर से नवरात्री (Devi Durga) को नौ दिनों के रूप में ही देखा जाता है। यदि तिथि बढ़ जाएं तो, तो ठीक है अगर तिथि घटती है तो यह अच्छे संकेत नहीं हैं।

इन मुहूर्तों में करें घट स्थापना —
घट स्थापना मुहूर्त दिन गुरुवार
राहु काल दोपहर 1:30 बजे से दोपहर 3:00 बजे तक
स्थिर लग्न सुबह 9:11 से 11:28 तक
शाम की स्थिर लग्न 3:29 से 4:52
रात्रि की स्थिर लग्न 5:57 से 9:53 तक

चौघड़िया के आधार से
शुभ मुहूर्त सुबह 6:00 बजे से शाम 7:30
लाभ मुहूर्त दोपहर 12:00 से 1:30 तक
शुभ मुहूर्त शाम 4:30 बजे से 6:00 बजे तक
अमृत मुहूर्त शाम 6:00 बजे से 7:30 बजे तक

(नोट: इस लेख में दी गई सूचनाएं सामान्य जानकारी और मान्यताओं पर आधारित हैं। बंसल न्यूज इनकी पुष्टि नहीं करता है।)

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password