मुनाफावसूली से सेंसेक्स 549 अंक फिसला, साप्ताहिक लाभ दर्ज किया

मुंबई, 15 जनवरी (भाषा) वैश्विक बाजारों में गिरावट के रुझान और हालिया तेजी के बाद मुनाफावसूली का सिलसिला चलने से शुक्रवार को सेंसेक्स 549 अंक फिसल गया।

कारोबारियों ने कहा कि मौजूदा उच्चस्तर पर मुनाफावसूली से बाजार में उतार-चढ़ाव रहा। हालांकि, कंपनियों के तिमाही नतीजों के सीजन की शुरुआत अच्छी हुई है।

बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 549.49 अंक या 1.11 प्रतिशत के नुकसान से 49,034.67 अंक पर आ गया।

इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 161.90 अंक या 1.11 प्रतिशत के नुकसान से 14,433.70 अंक पर बंद हुआ।

सेंसेक्स की कंपनियों में टेक महिंद्रा के शेयर में सबसे अधिक 4.35 प्रतिशत की गिरावट आई। एचसीएल टेक, ओएनजीसी, एशियन पेंट्स, अल्ट्राटेक सीमेंट, एचडीएफसी और हिंदुस्तान यूनिलीवर के शेयरों में भी नुकसान रहा।

सेंसेक्स के सिर्फ चार शेयरों में लाभ रहा। भारती एयरटेल, आईटीसी, बजाज ऑटो और बजाज फाइनेंस के शेयर 3.84 प्रतिशत तक चढ़ गए।

साप्ताहिक आधार पर सेंसेक्स 252.16 अंक या 0.51 प्रतिशत तथा निफ्टी 86.45 अंक या 0.60 प्रतिशत के लाभ में रहा। शुक्रवार को वैश्विक बाजार ‘बैकफुट’ पर थे। अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन ने 1,900 अरब डॉलर के प्रोत्साहन पैकेज का ब्योरा जारी किया। लेकिन निवेशक करो में बढ़ोतरी तथा ऊंची ब्याज दरों को लेकर चिंतित थे।

एलकेपी सिक्योरिटीज के शोध प्रमुख एस रंगनाथन ने कहा, ‘‘अमेरिका के कमजोर रोजगार आंकड़ों के बीच बाजार अनिश्चितता के साथ खुला। बाइडन ने 1,900 अरब डॉलर के प्रोत्साहन पैकेज का ब्योरा जारी किया है। शुक्रवार को दोपहर के कारोबार में आईटी शेयरों में मुनाफावसूली का सिलसिला चला।’’

बीएसई मिडकैप और स्मॉलकैप में 1.25 प्रतिशत तक की गिरावट आई।

अन्य एशियाई बाजारों में चीन के शंघाई कम्पोजिट तथा हांगकांग के हैंगसेंग में लाभ रहा, जबकि दक्षिण कोरिया के कॉस्पी और जापान के निक्की में गिरावट आई। शुरुआती कारोबार में यूरोपीय बाजार नुकसान में चल रहे थे।

इस बीच, वैश्विक बेंचमार्क ब्रेंट कच्चा तेल 1.77 प्रतिशत के नुकसान से 55.42 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया।

अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनियम बाजार में रुपया तीन पैसे के नुकसान के साथ 73.07 प्रति डॉलर पर बंद हुआ।

शेयर बाजारों के अस्थायी आंकड़ों के अनुसार बृहस्पतिवार को विदेशी संस्थागत निवेशकों ने शुद्ध रूप से 1,076.62 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे।

भाषा अजय अजय पाण्डेय

पाण्डेय

Share This

0 Comments

Leave a Comment

मुनाफावसूली से सेंसेक्स 549 अंक फिसला, साप्ताहिक लाभ दर्ज किया

मुंबई, 15 जनवरी (भाषा) वैश्विक बाजारों में गिरावट के रुझान और हालिया तेजी के बाद मुनाफावसूली का सिलसिला चलने से शुक्रवार को सेंसेक्स 549 अंक फिसल गया।

कारोबारियों ने कहा कि मौजूदा उच्चस्तर पर मुनाफावसूली से बाजार में उतार-चढ़ाव रहा। हालांकि, कंपनियों के तिमाही नतीजों के सीजन की शुरुआत अच्छी हुई है।

बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 549.49 अंक या 1.11 प्रतिशत के नुकसान से 49,034.67 अंक पर आ गया।

इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 161.90 अंक या 1.11 प्रतिशत के नुकसान से 14,433.70 अंक पर बंद हुआ।

सेंसेक्स की कंपनियों में टेक महिंद्रा के शेयर में सबसे अधिक 4.35 प्रतिशत की गिरावट आई। एचसीएल टेक, ओएनजीसी, एशियन पेंट्स, अल्ट्राटेक सीमेंट, एचडीएफसी और हिंदुस्तान यूनिलीवर के शेयरों में भी नुकसान रहा।

सेंसेक्स के सिर्फ चार शेयरों में लाभ रहा। भारती एयरटेल, आईटीसी, बजाज ऑटो और बजाज फाइनेंस के शेयर 3.84 प्रतिशत तक चढ़ गए।

साप्ताहिक आधार पर सेंसेक्स 252.16 अंक या 0.51 प्रतिशत तथा निफ्टी 86.45 अंक या 0.60 प्रतिशत के लाभ में रहा। शुक्रवार को वैश्विक बाजार ‘बैकफुट’ पर थे। अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन ने 1,900 अरब डॉलर के प्रोत्साहन पैकेज का ब्योरा जारी किया। लेकिन निवेशक करो में बढ़ोतरी तथा ऊंची ब्याज दरों को लेकर चिंतित थे।

एलकेपी सिक्योरिटीज के शोध प्रमुख एस रंगनाथन ने कहा, ‘‘अमेरिका के कमजोर रोजगार आंकड़ों के बीच बाजार अनिश्चितता के साथ खुला। बाइडन ने 1,900 अरब डॉलर के प्रोत्साहन पैकेज का ब्योरा जारी किया है। शुक्रवार को दोपहर के कारोबार में आईटी शेयरों में मुनाफावसूली का सिलसिला चला।’’

बीएसई मिडकैप और स्मॉलकैप में 1.25 प्रतिशत तक की गिरावट आई।

अन्य एशियाई बाजारों में चीन के शंघाई कम्पोजिट तथा हांगकांग के हैंगसेंग में लाभ रहा, जबकि दक्षिण कोरिया के कॉस्पी और जापान के निक्की में गिरावट आई। शुरुआती कारोबार में यूरोपीय बाजार नुकसान में चल रहे थे।

इस बीच, वैश्विक बेंचमार्क ब्रेंट कच्चा तेल 1.77 प्रतिशत के नुकसान से 55.42 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया।

अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनियम बाजार में रुपया तीन पैसे के नुकसान के साथ 73.07 प्रति डॉलर पर बंद हुआ।

शेयर बाजारों के अस्थायी आंकड़ों के अनुसार बृहस्पतिवार को विदेशी संस्थागत निवेशकों ने शुद्ध रूप से 1,076.62 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे।

भाषा अजय अजय पाण्डेय

पाण्डेय

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password