School College Closed: राजधानी में 'कोरोना' का आतंक! बंद रहेंगे सभी शैक्षणिक संस्थान

School College Closed: राजधानी में ‘कोरोना’ का आतंक! बंद रहेंगे सभी शैक्षणिक संस्थान

School College Closed
Share This

Delhi School College Closed: दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) ने कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में तेज वृद्धि के बाद राष्ट्रीय राजधानी में ”येलो अलर्ट” घोषित किया है, जिसके चलते विद्यालय, महाविद्यालय और प्रशिक्षण तथा कोचिंग संस्थान बंद रहेंगे। एक ओर जहां इस घटनाक्रम पर अभिभावकों की ओर से मिली-जुली प्रतिक्रिया सामने आई है, तो दूसरी ओर विद्यालयों के प्रधानाचार्यों तथा शिक्षा विशेषज्ञों सहित अन्य हितधारकों ने पढ़ाई के अंतराल में बढ़ोतरी को लेकर चिंता जतायी है।

जारी हुआ ”येलो अलर्ट” 

दिल्ली में एक दिन में कोविड-19 मामलों में सबसे बड़ी वृद्धि होने के बाद श्रेणीबद्ध प्रतिक्रिया कार्य योजना (जीआरएपी) के तहत ”येलो अलर्ट” जारी किया गया है। सोमवार को छह महीने के बाद एक दिन में संक्रमण के सबसे अधिक 331 मामले सामने आए और संक्रमण की दर 0.67 प्रतिशत तक पहुंच गई। डीडीएमए ने दिल्ली में कोविड-19 की तीसरी लहर की संभावना को देखते हुए जुलाई में जीआरएपी को मंजूरी दी थी। इस योजना के तहत पाबंदियां लगाने और हटाने के बारे में स्पष्ट तस्वीर पेश की गई है।

यह भी पढ़े:- Weather Update: कंपकंपाती ठंड से होगी नए साल की शुरुआत! IMD ने जारी किया बारिश का अलर्ट

बंद रहेंगे सभी शैक्षणिक संस्थान

”येलो अलर्ट” के तहत विद्यालय, महाविद्यालय, प्रशिक्षण और कोचिंग संस्थानों के साथ-साथ पुस्तकालयों को भी बंद किया जाना है। दिल्ली में प्रदूषण चिंताजनक स्तर पर पहुंचने के बाद स्कूलों को बंद कर दिया गया था, जिसके बाद 18 दिसंबर से छठी कक्षा से ऊपर के छात्रों के लिये स्कूल फिर खुले थे। सरकार ने उस समय घोषणा की थी कि पांचवीं कक्षा तक के छात्रों के लिये भौतिक रूप से कक्षाएं 27 दिसंबर से शुरू की जा सकती हैं।

मानसिक स्वास्थ्य पर पड़ रहा प्रभाव 

दिल्ली अभिभावक संघ (डीपीए) की अध्यक्ष अपराजिता गौतम ने कहा कि विद्यालयों को बार-बार खोलने तथा बंद करने से छात्रों के मानसिक स्वास्थ्य पर “बुरा” प्रभाव पड़ा है।गौतम ने कहा, ”हम सभी ने इस साल सरकार की योजना और क्रियान्वयन संबंधी विफलता देखी है। विद्यालय बार-बार खुलने तथा बंद होने से छात्रों के मानसिक स्वास्थ्य पर निश्चित रूप से खराब प्रभाव पड़ा है।”

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password