SBI, HDFC, ICICI बैंकों को 31 मार्च तक की डेडलाइन, 1 अप्रैल से बंद होगी ये सर्विस

नई दिल्ली: भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (TRAI) ने शुक्रवार को 40 ऐसी चूक करने वाली यानी डिफॉल्टर इकाइयों की लिस्ट जारी की है जो बार-बार याद दिलाने के बावजूद एसएमएस (SMS) को लेकर जारी किए गए नियमों को पूरा नहीं कर रहे हैं।

इन ईकाइयों में देश का सबसे बड़ा सरकारी बैंक सहित प्राइवेट बैंक भी शामिल हैं। सरकारी बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI), आईसीआईसीआई बैंक (ICICI), एचडीएफसी बैंक (HDFC), कोटक महिंद्रा बैंक, LIC शामिल हैं। इन प्रमुख इकाइयों के बारे में कई बार जानकारी दी जा चुकी है।

31 मार्च है डेडलाइन

TRAI ने इस मुद्दे पर अपना सख्त रुख करते हुए कहा है कि डिफॉल्ट करने वाली इकाइयों को इन नियमों को 31 मार्च 2021 तक पूरा करना होगा। अगर ऐसा नहीं किया जाता तो एक अप्रैल 2021 से उनका ग्राहकों के साथ संचार बाधित हो सकता है।

1 अप्रैल से बैंकों को करना होगा इन नियमों का पालन

नियमों के तहत वाणिज्यिक टेक्सट संदेश भेजने वाली इकाइयों को मैसेज हेडर और टेम्प्लेट को दूर संचार ऑपरेटरों के पास रजिस्टर कराना होगा।

इसके अलावा प्रयोगकर्ता इकाइयों मतलब बैंक, भुगतान कंपनियों और अन्य के पास जब SMS और OTP जाएगा, तो उसकी जांच ब्लॉकचेन प्लेटफॉर्म पर रजिस्टर्ड टेंप्लेट से की जाएगी।

धोखाधड़ी वाले SMS को रोकने के लिए उठाया कदम

ब्लॉकचेन प्रौद्योगिकी पर आधारित ट्राई के वाणिज्यिक संदेशों के नियमों का मकसद अवांछित तथा धोखाधड़ी वाले संदेशों पर अंकुश लगाना है। ट्राई ने दूरसंचार सेवाप्रदाताओं द्वारा जमा कराए गए स्क्रबिंग डाटा और रिपोर्ट का विश्लेषण किया है। उसकी इस बारे में टेली मार्केटिंग कंपनियों/एग्रीगेटर के साथ 25 मार्च, 2021 को बैठक भी हो चुकी है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password