Saral Pension Yojana: 1 अप्रैल से शुरू होने जा रही है सरल पेंशन योजना, जानिए क्यों है जरूरी

Image source: https://indiascheme.com/

Saral Pension Yojana: बीमा नियामक इरडा ने देश की बीमा कंपनियों को सरल पेंशन योजना शुरू करने के लिए कहा है। इस योजना को इसी साल 1 अप्रैल से शुरू किया जाएगा। सरल पेंशन प्लान के तहत बीमा कंपनियों को केवल दो एन्युटी (वार्षिकी) देने का विकल्प देगा। इरडा की ओर से जारी दिशा-निर्देश में बताया गया है कि सरल पेंसन प्लान के तहत मैच्योरिटी लाभ नहीं मिलेगा। हालांकि, इसमें 100 फीसदी खरीद मूल्य की वापसी का विकल्प होगा।

इसके साथ ही बता दें कि नियम तथा शर्ते बहुत सरल, स्पष्ट तथा अलग-अलग सेवा प्रदाता कंपनियों में एक समान होंगे। यानी ग्राहक किसी भी कंपनी से Saral Pension Yojana का लाभ लें, उसे एक जैसी शर्तें मिलेंगी।

सिर्फ दो एन्युटी या वार्षिकी देने का विकल्प

सरप पेंशन योजना के तहत सिर्फ दो एन्युटी या वार्षिकी देने का विकल्प रहेगा। यानी किसी भी पेंशन प्लान में जमा के बदले कंपनियां जो सालाना राशि देने का वादा करती हैं, वह राशि अवधि का चुनाव मासिक, तिमाही, छमाही या सालाना आधआर पर करने का ऑप्शन होता है। जिसकी सुविधा सेवानिवृत्ति के बदा नियमित आय के रूप में पेंशन प्लान के तहत मिलती है।

जानें कैसे मिलेगी आपकी राशि

सरल पेंशन योजना में न्यूनतम एन्युटी राशि 1 हजार रुपये प्रति महीने होगी। वहीं तिमाही के लिए 3 हजार रुपये, छहमाही के लिए 6 हजार और सालभर के लिए 12 हजार रुपये रहेगी। पॉलिसी शुरू होने की तारीख से 6 महीने के बाद किसी भी समय आप पॉलिसी को सरेंडर कर सकते हैं। वहीं इस योजना के लागू होने के बाद ग्राहकों के लिए सरल पेंशन योजना का चुनाव आसान हो जाएगा।

Saral Pension Yojana में क्या है खास

सरल पेंशन योजना की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि यहां खरीद मूल्य के 100 फीसदी वापसी के साथ लाइफ एन्युटी मिलेगी। यानी एन्युटी का भुगतान Saral Pension Yojana लेने वाले को पूरी जिदंगी किया जाएगा। इतना ही नहीं, बीमा धारक की मृत्यु के बाद भी उसका लाभ जीवनसाथी को एन्युटी मिलती रहेगी और कानूनी वारिस को खरीद मूल्य यानी 100 फीसदी राशि वापस मिल जाएगी। यानी ग्राहक जितना पैसा निवेश करेगा उतना पैसा उसे मिल जाएगा।

इसलिए जरूरी है सरल पेंशन प्लान

बीमा नियामक इरडा के निर्देश पर बीमा कंपनियों ने एक जनवरी से सरल बीमा पॉलिसी पेश करना शुरू कर दिया है। इसमें नाम और शर्तं एक हैं जिससे उपभोक्ताओं को चुनाव में परेशानी नहीं हो रही। बीमा कंपनियां बीमा पॉलिसी की तरह पेंशन प्लान भी अलग-अलग नाम से बेचती हैं और उसे सबसे बेहतर होने का दावा करती हैं। उपभोक्ताओं के लिए उनमें से चुनाव करना बेहद कठिन होता है और बार मिलते-जुलते नाम का झांसा देकर भी इस तरह के उत्पाद बेच दिए जाते हैं। इसी को देखते हुए इरडा ने एक तरह की शर्तों और सुविधाओं वाला सरल पेंशन प्लान पेश करने को कहा है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password