लॉकडाउन में पालतु पशुओं का पालन पोषण बढ़ने से 2020 में इनके खाद्य पदार्थों की बिक्री 20 प्रतिशत बढ़ी

नयी दिल्ली, 17 जनवरी (भाषा) कोरोना वायरस महामारी के चलते लॉकडाउन लगने के बाद घरेलू पशुओं को पालने की गतिविधियों में तेजी आयी। इससे पिछले साल पालतु पशुओं के खाद्य पदार्थों की बिक्री में 20 प्रतिशत की तेजी दर्ज की गयी। विनिर्माताओं को यह गति आगे भी बरकरार रहने की उम्मीद है।

पेडिग्री, व्हिस्कस, आईएएमएस और टेम्पटेशन जैसे लोकप्रिय ब्रांड का स्वामित्व रखने वाली कंपनी मार्स पेटकेयर तथा स्विट्जरलैंड की एफएमसीजी कंपनी पुरीना की बिक्री में 10 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि दर्ज की गयी।

बिक्री में यह वृद्धि पारंपरिक चैनलों के माध्यम से ही नहीं आयी, बल्कि ई-वाणिज्य मंचों से भी बिक्री तेज हुई। पालतु पशुओं को अपनाने में तेजी आने से भारत में विनिर्माता अपना उत्पाद पोर्टफोलियो बढ़ा रहे हैं। कंपनियां टीवी विज्ञापन और डिजिटल प्रचार भी तेज कर रही हैं।

मार्स पेटकेयर इंडिया के महाप्रबंधक गणेश रमानी ने पीटीआई-भाषा को बताया, ‘‘एक समग्र श्रेणी के रूप में पालतू पशुओं के उत्पादों में और पालतू पशु भोजन की मांग में वृद्धि हुई है। लॉकडाउन के दौरान कई पशुओं को पालतु बनाया गया और घरों में इन्हें अपनाया गया। ऐसे में लोग बड़े बैग, दवा, बिल्ली के भोजन आदि जैसे उत्पादों को घरों में जमा करने लगे।’’’

उल्लेखनीय है कि महामारी के चलते अब लोग घर पर ही ज्यादा समय बिता रहे हैं। ऐसे में लोग पालतु पशुओं को घर ला रहे हैं।

भाषा

सुमन महाबीर

महाबीर

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password