शुरुआती कारोबार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया चार पैसे टूटा -



शुरुआती कारोबार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया चार पैसे टूटा

मुंबई, 12 जनवरी (भाषा) अमेरिकी मुद्रा में तेजी और घरेलू शेयर बाजार में सुस्ती के चलते रुपया मंगलवार को शुरुआती कारोबार के दौरान अमेरिकी डॉलर के मुकाबले चार पैसे टूटकर 73.44 के स्तर पर पहुंच गया।

अंतरबैंक विदेशी मुद्रा बाजार में घरेलू इकाई अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 73.42 पर खुली और फिर 73.44 तक गिर गई, जो पिछले बंद भाव के मुकाबले चार पैसे की गिरावट को दर्शाता है।

रुपया सोमवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 73.40 पर बंद हुआ था।

रिलायंस सिक्योरिटीज ने एक शोध टिप्पणी में कहा कि एशियाई मुद्राओं में कमजोरी के चलते बाजार की धारणा कमजोर हो सकती है, हालांकि विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों के घरेलू शेयर बाजार में निवेश जारी रखने से नुकसान की भरपाई हो सकती है।

इस बीच छह प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले अमेरिकी डॉलर की स्थिति को दर्शाने वाला डॉलर सूचकांक 0.12 प्रतिशत बढ़कर 90.57 पर आ गया।

शेयर बाजार के अस्थाई आंकड़ों के मुताबिक विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक (एफपीआई) ने सोमवार को सकल आधार पर 3,138.90 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे।

इस बीच वैश्विक तेल बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड वायदा 0.13 फीसदी की गिरावट के साथ 55.59 अमेरिकी डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार कर रहा था।

भाषा पाण्डेय

पाण्डेय

Share This

शुरुआती कारोबार में रुपया अमेरिकी डॉलर के मुकाबले चार पैसे टूटा

मुंबई, एक जनवरी (भाषा) किसी ताजा संकेत के अभाव में रुपया नए साल के पहले कारोबारी सत्र में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले चार पैसे गिरकर 73.11 के स्तर पर आ गया।

अंतरबैंक विदेशी मुद्रा बाजार में घरेलू इकाई शुक्रवार को एक सीमित दायरे में कारोबार कर रही थी। रुपया अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 73.09 पर खुला और आगे गिरावट दर्ज करते हुए 73.11 के स्तर पर आ गया। इस तरह रुपया पिछले बंद भाव के मुकाबले चार पैसे टूटा।

रुपया गुरुवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 24 पैसे की तेजी के साथ चार महीने के उच्च स्तर 73.07 पर बंद हुआ था।

विदेशी मुद्रा कारोबारियों ने कहा कि रुपया एक सीमित दायरे में रह सकता है, क्योंकि घरेलू और वैश्विक मोर्चे पर कोई बड़ा आर्थिक आंकड़ा जारी नहीं होना है।

इस बीच छह प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले अमेरिकी डॉलर की स्थिति को दर्शाने वाला डॉलर सूचकांक 0.29 प्रतिशत बढ़कर 89.93 पर आ गया।

भाषा पाण्डेय

पाण्डेय

Share This

0 Comments

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password