Rohit Joshi Rape case In Jaipur: 23 वर्षीय युवती से रेप के मामले में फंसे रोहित, इस दिन कोर्ट में होना होगा पेश

नई दिल्ली। Rohit Joshi Rape case In Jaipur दिल्ली पुलिस का एक दल 23 वर्षीय महिला से कथित दुष्कर्म के मामले में राजस्थान के मंत्री महेश जोशी (Minister Mahesh Joshi) के बेटे रोहित जोशी (Rohit Joshi) को गिरफ्तार करने रविवार को जयपुर पहुंचा। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

अधिकारी ने दी जानकारी

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘‘हमारे अधिकारियों का दल मामले के संबंध में जोशी को पकड़ने के लिए जयपुर पहुंच गया है, जो फरार है। हमारा दल उसका पता लगाने के लिए दबिश दे रहा है।’’ कुछ दिन पहले जयपुर की 23 वर्षीय युवती ने आरोप लगाया था कि राजस्थान के जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री के बेटे रोहित जोशी ने पिछले एक साल से अधिक समय में कई बार उससे दुष्कर्म किया। इसके बाद दिल्ली पुलिस ने शुरुआत में शून्य प्राथमिकी दर्ज की। पुलिस ने बताया कि बाद में शून्य प्राथमिकी को नियमित प्राथमिकी में बदल दिया गया। प्राथमिकी में दुष्कर्म की घटना सदर बाजार थाने के अधिकार क्षेत्र में अंजाम दिए जाने का आरोप लगाया गया। महिला ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया कि उससे पिछले साल आठ जनवरी और इस साल 17 अप्रैल के बीच कई बार दुष्कर्म किया गया।

 

महिला ने लगाया था ये आरोप

महिला ने बताया था कि उसकी पिछले साल फेसबुक पर रोहित जोशी से दोस्ती हुई और इसके बाद से वे संपर्क में रहने लगे। दोनों पहली बार जयपुर में मिले और रोहित जोशी ने कथित तौर पर उसे आठ जनवरी, 2021 को सवाई माधोपुर में आमंत्रित किया। युवती ने आरोप लगाया कि पहली मुलाकात के दौरान रोहित जोशी ने उसके पेय पदार्थ में नशीली वस्तु मिला दी और इसका फायदा उठाया। प्राथमिकी के अनुसार जब अगली सुबह वह उठी तो आरोपी ने उसकी निर्वस्त्र तस्वीरें और वीडियो दिखाये, जिससे वह परेशान हो गयी। एक अन्य मुलाकात का जिक्र करते हुए उसने आरोप लगाया कि रोहित जोशी एक बार उससे दिल्ली में भी मिला तथा उसने उसके साथ जबरदस्ती करने की कोशिश की। महिला ने आरोप लगाया, ‘‘रोहित ने मुझे एक होटल में बुलाया जहां उसने पति और पत्नी के तौर पर हमारा नाम लिखाया। उसने फिर मुझसे शादी का वादा किया…लेकिन उसने शराब पी और मुझसे गाली गलौज की। वह मुझे मारता था और मेरी आपत्तिजनक वीडियो बनाता था। वह उन्हें अपलोड करने और सोशल मीडिया पर फैलाने की धमकी देता था।’’ प्राथमिकी में दर्ज शिकायत में कहा गया है कि अगस्त 2021 में युवती को पता चला कि वह गर्भवती है और उसने आरोप लगाया कि रोहित जोशी ने उसे जबरन गर्भ निरोधक दवा खिलाने की कोशिश की लेकिन उसने नहीं खायी।

मामले में आगे क्या 

आपको बताते चलें कि, इस केस में दिल्ली पुलिस ने अपनी इंवेस्टिगेशन शुरू कर दी है, जो आगे भी जारी रहेगी। इसके अलावा दिल्ली पुलिस ने जयपुर में उनके मकान पर नोटिस चस्पा कर जांच में सहयोग करने के लिए 18 मई को पेश होने को कहा है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password