8 लाख के इनामी नक्सली ने किया सरेंडर, 4 IED, 5 डेटोनेटर, वॉकीटॉकी सामग्री बरामद

Naxalites surrender

दंतेवाड़ा। जिले में चलाए जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत जिला दंतेवाड़ा के विभिन्न ग्रामों के व्यक्ति जो नक्सल संगठन में सक्रिय हैं उन्हें आत्मसमर्पण कर सम्मान पूर्वक जीवन यापन करने के लिए थाना/कैम्पो एवं ग्राम पंचायतों के माध्यम से उनका नाम चस्पा कर लोन वर्राटू अभियान चलाया जा रहा है।और इस लोन वर्राटु अर्थात घर वापसी अभियान से प्रभावित होकर और नक्सलियों की खोखली विचारधारा से तंग आकर आठ लाख के इनामी माओवादी ने पुलिस अधीक्षक डॉ अभिषेक पल्लव के समक्ष किया। आत्मसमर्पित नक्सली मिलेट्री कंपनी नंबर पांच प्लॉटून नंबर दो का सदस्य रहा है। वह विगत छ वर्षो से नक्सली संगठन में सक्रिय था और विभिन्न नक्सल वारदातों में शामिल रहा है।

आत्मसमर्पित नक्सली की निशानदेही पर डीआरजी दंतेवाड़ा ग्राम तेलम एवं तुमकपाल के बीच जंगल पहाड़ी की ओर रवाना हुई थी कि पूर्व से घात लगाकर बैठे नक्सली पुलिस पार्टी को अपनी ओर आता देख कर भागने लगे पुलिस पार्टी द्वारा नक्सलियों का पीछा किया लेकिन नक्सली जंगल झाड़ी की आड़ लेकर भागने में सफल रहे। उक्त जगह में सर्च करने पर नक्सलियों द्वारा पुलिस पार्टी को नुकसान पहुंचाने के लिए लगाये गये चार नग आईईडी टिफिन बम तार सहित, पांच नग डेटोनेटर, एक नग वॉकी टॉकी सेट, व नक्सली साहित्य व दस्तावेज बरामद किया गया।

छत्तीसगढ़ शासन की पुनर्वास नीति के तहत आत्मसमर्पण के पश्चात छत्तीसगढ़ शासन पॉलिसी के तहत समर्पित नक्सली को प्रोत्साहन राशि दस हजार रुपए पुलिस अधीक्षक डॉ अभिषेक पल्लव द्वारा प्रदाय किया गया। छत्तीसगढ़ शासन की नई इनाम पॉलिसी योजना के तहत मिलिट्री कंपनी सदस्य के ऊपर आठ लाख रुपये का इनाम घोषित है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password