REWA NIKAY ELECTIONS: 'चाय वाले चाचा' चुनाव पर,क्या बन पाएंगे महापौर

REWA NIKAY ELECTIONS: ‘चाय वाले चाचा’ चुनाव पर,क्या बन पाएंगे महापौर

REWA NIKAY ELECTIONS

REWA: रीवा में नगरी निकाय चुनाव का बिगुल बजते ही राजनीतिक सरगर्मियां तेज हो चुकी है विभिन्न पार्टियों के द्वारा मेयर पद की दावेदारी करते हुए प्रत्यासी नामांकन दाखिल करने कलेक्ट्रेट कार्यालय पहुंच रहे हैं। नामांकन दाखिल करने मे आज अंतिम तिथि के दिन एक ऐसा सख्स नामंकन दाखिल करने कलेक्ट्रेट कार्यालय पहुचा जो की पिछले 35 वर्षों से चाय का ठेला लगा रहे है। तथा उनके द्वारा अब महापौर बनने का दावा पेश किया जा रहा है। दरअसल रीवा के मुख्य बाजार शिल्पी प्लाजा में विगत 20 वर्षों से चाय का ठेला लगाने वाले “चाय वाले चाचा” के नाम से मशहूर राम चरण शुक्ला ने महापौर बनने का दावा पेश किया है। तथा “चाय वाले चाचा” ने शहर की मूलभूत समस्याओं को अपना चुनावी मुद्दा बनाते हुए वह चुनावी मैदान पर उतरने जा रहे हैं राम चरण शुक्ला का कहना है कि जब एक चाय बेचने वाले देश के प्रधानमंत्री बन सकते हैं तो क्या वह महापौर नहीं बन सकते।
रामचरण शुक्ला ने भी राजनीति में अपने पैर आजमाने की ख्वाहिश मन में रख ली और अब उन्होंने आगामी निकाय चुनाव के माध्यम से रीवा का नया महापौर बनने का दावा किया है समग्र उत्थान पार्टी से नामांकन दाखिल करने कलेक्ट्रेट कार्यालय पहुचे रामचरण शुक्ला ने मीडिया से बात करते हुए कहा की रीवा में जो भी भ्रष्टाचार चल रहा उसे वह रीवा की जनता के सामने उजागर करेंगे। जीत के बाद वह नगर की सारी व्यवस्थाओं को सुधारने के प्रयास करेंगे फुटपाथ के छोटे व्यापारी, नगर निगम के कर्मचारी असहाय शोषित पीड़ित और दलित इन सभी वर्गों के उत्थान करना ही उनका चुनावी मुद्दा है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password