Red Alert: केरल में फिर शुरू होगा बारिश का दौर, इन 7 जिलों में होगा पानी ही पानी..

Red Alert: केरल में फिर शुरू होगा बारिश का दौर, इन 7 जिलों में होगा पानी ही पानी..

तिरुवनंतपुरम/पत्तनमथिट्टा। Red Alert केरल में लगातार हो रही बारिश के बीच भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने सात जिलों में आज एक दिन के लिए ‘रेड अलर्ट’ जारी किया है। आईएमडी ने राज्य के तिरुवनंतपुरम, कोल्लम, पत्तनमथिट्टा, अलप्पुझा, कोट्टायम, एर्णाकुलम और इडुक्की जिलों के लिए ‘रेड अलर्ट’ जारी किया है।

मुख्यमंत्री कार्यालय से जारी सूचना

मुख्यमंत्री कार्यालय (सीएमओ) की ओर से जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, ‘रेड अलर्ट’ जारी किए जाने के बाद केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने बारिश से हुए नुकसान के आकलन और राहत कार्यों में समन्वय स्थापित करने के लिए सभी जिलाधिकारियों की एक बैठक बुलाई। विज्ञप्ति के अनुसार, मुख्यमंत्री ने लोगों से सावधान रहने, नदियों, जलाशयों, धाराओं आदि में नहाने, कपड़े धोने या जानवरों को नहलाने जाने, रात में जाने से बचने और आपदा प्रबंधन प्राधिकरण द्वारा दी गई सलाह का पालन करने को कहा है। विज्ञप्ति के अनुसार, पुलिस, दमकल कर्मी और अन्य सरकारी एजेंसियों को सतर्क रहने का निर्देश दिया गया है। मछुआरों को सलाह दी गई है कि वे किसी भी परिस्थिति में समुद्र में न जाएं और उन क्षेत्रों से लोगों को निकालकर राहत शिविरों में पहुंचाने को कहा गया है, जहां भूस्खलन होने का अधिक खतरा है।

आईएमडी ने दिए संकेत

आईएमडी ने राज्य के त्रिशूर और मलप्पुरम जिलों के लिए ‘येलो अलर्ट’ जारी किया है। आईएमडी ने उपरोक्त सात जिलों के लिए दो अगस्त के लिए ‘रेड अलर्ट’ और साथ ही उस दिन चार जिलों के लिए ‘ऑरेंज अलर्ट’ भी जारी किया। चार अगस्त के लिए उसने नौ जिलों के लिए ‘रेड अलर्ट’ और तीन जिलों के लिए ‘ऑरेंज अलर्ट’ जारी किया है। इससे पहले पत्तनमथिट्टा जिले में सुबह करीब सात बजे एक बस से आगे निकलने की कोशिश कर रही एक कार सड़क से फिसलकर एक छोटी नदी में गिर गई, जिससे एक ही परिवार के तीन सदस्यों की मौत हो गई। पुलिस ने सोमवार को यह जानकारी दी। पुलिस ने बताया कि कार में सवार चंडी मैथ्यू, उनकी पत्नी और बेटी नदी में बह गए। राज्य में लगातार हो रही बारिश के चलते कई नदियां उफान पर है। जिले के अधिकारियों ने बताया कि बारिश से संबंधित एक अन्य घटना में पत्तनमथिट्टा जिले के अथिक्कायम गांव में पम्पा नदी में 60 वर्षीय एक व्यक्ति बह गया। अधिकारियों ने बताया कि मौसम खराब रहने और आने वाले दिनों में भारी बारिश के पूर्वानुमान को ध्यान में रखते हुए कोट्टायम और एर्णाकुलम जिलों में उत्खनन और खनन संबंधी गतिविधियों पर रोक लगा दी गई है।

भारी बारिश की बढ़ी चिंता

अधिकारियों ने बताया कि कोट्टायम में, जिले के इल्लीक्कल इलवीझापूनचिरा पर्यटन केंद्र गए 25 लोग बारिश के कारण घर नहीं लौट सके और उन्हें फिलहाल पास के एक सरकारी स्कूल तथा आसपास के मकानों में ठहराया गया है। इस बीच, केरल प्रदेश कांग्रेस कमेटी (केपीसीसी) के प्रमुख एवं सांसद के. सुधाकरन ने राज्य में भारी बारिश के मद्देनजर पार्टी के सभी कार्यकर्ताओं से राहत कार्यों में मदद के लिए आगे आने का आग्रह किया है। राज्य के राजस्व मंत्री के. राजन ने कहा कि भारी बारिश के अलावा तेज हवाओं के कारण भी चिंता बढ़ गई है। भारी बारिश होने के कारण सोमवार को राज्य के कुछ हिस्सों में शैक्षणिक संस्थानों में एक दिन का अवकाश घोषित किया गया है। जिले के नियंत्रण कक्ष ने बताया कि एर्णाकुलम में चार अगस्त तक जारी ‘ऑरेंज अलर्ट’ के मद्देनजर सभी विभागों को हर स्थिति के लिए तैयार रहने और मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने का निर्देश दिया गया है।

24 घंटे में तेज बारिश

नियंत्रण कक्ष ने बताया कि भारी बारिश की चेतावनी के मद्देनजर जिले की नदियों के जल स्तर पर नजर रखी जा रही है। मौसम विभाग ने रविवार को केरल में चार अगस्त तक भारी बारिश होने का पूर्वानुमान करते हुए इस सप्ताह के लिए विभिन्न जिलों में भारी बारिश होने का पूर्वानुमान लगाया था। ‘रेड अलर्ट’ के तहत 24 घंटों में भारी से बेहद भारी बारिश यानी 20 सेंटीमीटर से अधिक बारिश होने की, जबकि ‘ऑरेंज अलर्ट’ के तहत छह सेंटीमीटर से लेकर 20 सेंटीमीटर तक बेहद भारी बारिश और ‘येलो अलर्ट’ के तहत छह से 11 सेंटीमीटर तक भारी बारिश होने की संभावना होती है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password