HDFC Bank की डिजिटल सेवाओं के विस्तार पर लगी रोक, RBI ने लिया बड़ा फैसला

नई दिल्ली: भारतीय रिजर्व बैंक ( RBI ) ने देश के सबसे बड़े निजी कर्जदाता HDFC Bank की डिजिटल सेवाओं के विस्तार पर रोक लगा दी है। बता दें कि ऐसा देश में पहली बार हुआ है कि किसी बैंक पर उसकी डिजिटल सेवा में तकनीकी खामी होने के कारण नई सेवा देने पर रोक लगाई गई हो। अब से क्रेडिट कार्ड को लेकर आगामी आदेश तक नए ग्राहक नहीं बन सकेगी

RBI ने यह कदम एचडीएफसी बैंक की पिछले दो सालों में डिजिटल बैंकिंग सेवा में कई बार अवरोध पैदा होने के कारण लिया है। हालांकि डिजिटल बैंकिग सेवा में अवरोध होते हैं लेकिन HDFC Bank इस अवरोध को रोक पाने में विफल रहा जिसके कारण ये कदम उठाना पड़ा और ये अवधि कब तक रहेगी इसका फिलहाल स्पष्ट नहीं है। एचडीएफसी बैंक को डिजिटल प्लेटफॉर्म पर कोई भी नया उत्पाद लांच करने से मना कर दिया है बैंक को नए क्रेडिट कार्ड ग्राहक बनाने से भी रोक दिया गया है।

21 नवंबर को आई थी नवीनतम दिक्कत

HDFC Bank की नेट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग व अन्य डिजिटल बैंकिंग सेवा में हाल के महीनों में कई बार ग्राहकों को दिक्कत का सामना करना पड़ा जिनमें हाल ही में 21 नवंबर को दिक्कतें आई थी। वहीं बैंक के ग्राहकों का भी कहना है कि इस हफ्ते में बुधवार तक कई बार बैंक की डिजिटल सेवाएं ठप्प रही हैं। बता दें कि एचडीएफसी बैंक के ग्राहकों ने बैंक की डिजिटल सेवा ठप्प होने को लेकर एक ऑनलाइन अभियान भी चलाया था।

बोर्ड ने ग्राहकों को दिलाया भरोसा

– एचडीएफसी ने बैंक ने शेयर बाजार को बताया है कि RBI के सुझाव के मद्देनजर बैंक डिजिटल 2.0 कार्यक्रम के तहत कोई भी नया डिजिटल सेवा या आइटी एप्लीकेशंस पर आधारित कोई दूसरा व्यवसाय लांच नहीं करेगा।

– एचडीएफसी बैंक के शीर्ष प्रबंधन ने अपने ग्राहकों भरोसा दिलाया है कि बोर्ड समस्या का स्थायी समाधान तलाशने में जुटा है।

– बोर्ड समस्या की जड़ में जाने व इसके लिए दोषियों को जिम्मेदार ठहराने में कोई कोताही नहीं रखेगा। सभी ग्राहक मौजूदा डिजिटल सेवाओं का वैसे ही इस्तेमाल करते रहेंगे जैसा कि अभी कर रहे हैं।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password