Ratlam Triple Murder Case: एनकाउंटर में ट्रिपल मर्डर का मुख्य आरोपी ढेर, लूट के बाद पूरे परिवार की कर देता था हत्या

रतलाम। शहर के त‍िहरे हत्‍याकांड Ratlam Triple Murder Case का मुख्‍य आरोपी दिलीप देवल Dilip Dewal Encounter In Ratlam को पुलिस ने खाचरौद रोड़ पर मुठभेड़ में मारा गया है। सूचना मिलने पर पुलिस ने नाकेबंदी की। जिसके बाद आरोपी ने पुलिस टीम पर फायरिंग की जिसमें तीन से चार पुलिस वाले घायल हुए हैं। बता दें कि एक हफ्ते पहले राजीव नगर में हुए तिहरे हत्याकांड की गुत्थी पुलिस ने काफी हद तक सुलझा ली थी। इस वारदात को गुजरात के दाहोद के सजायाफ्ता साइको किलर दिलीप देवल और उसके तीन साथियों ने मिलकर अंजाम दिया था। इस वारदात के साथ पांच महीने पहले मनीष नगर में हुए डॉ. प्रेमकुंवर सिसौदिया के अंधे कत्ल की गुत्थी भी सुलझ गई थी। ये वारदात दिलीप ने अपने दो साथियों के साथ की थी। दोनों मामलों में पांच आरोपितों को गिरफ्तार किया गया था। जबकि दिलीप की तलाश जारी थी। गुरूवार को पुलिस ने एनकाउंटर में द‍िलीप को मार ग‍िराया। पुलिस ने लूटे गए जेवर और दूसरा सामान भी बरामद किया था।

 

ये है मामला
25 नवंबर की रात तीन मंजिला मकान के दूसरे हिस्से में रहने वाले 50 वर्षीय गोविंद सोलंकी, पत्नी 45 वर्षीय शारदा व 21 वर्षीय बेटी दिव्या की अज्ञात बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। दूसरे दिन सुबह उनकी किरायेदार ज्वेलिका चार्ल्स गोविंद के घर पहुंची, तब घटना का खुलासा हुआ था। कुछ जगह से संदिग्धों के फुटेज मिले। कॉल डिटेल्स भी पुलिस के मददगार बने। पहचान होने के बाद पता चला कि आरोपित दिलीप ने अन्य साथियों अनुराग उर्फ बॉबी पुत्र प्रवीण सिंह, निवासी विनोबा नगर, गोलू उर्फ गौरव पुत्र राजेश बिलवाल निवासी रेलवे कॉलोनी रोड नंबर 7 रतलाम व लाला पुत्र मनु भाभोर निवासी ग्राम अबलोड लिम्बू फलिया थाना जेसवाड़ा जिला दाहोद के साथ साजिश रचकर तीनों हत्या की थी।

 

डॉ. सिसौदिया को भी लूटने के लिए मारा था
18 जून 2020 को मनीष नगर (कस्तूरबानगर) में डॉ. प्रेमकुंवर सिसौदिया की भी गोली मारकर हत्या की गई थी। तिहरे हत्याकांड व प्रेमकुंवर हत्याकांड का तरीका समान था। जांच में पता चला कि प्रेमकुंवर की हत्या दिलीप व उसके अन्य साथी सुनीत उर्फ सुमित पुत्र जितेंद्रसिंह चौहान निवासी मेनरोड गांधीनगर व हिम्मत सिंह, पुत्र रूप सिंह निवासी ग्राम खरेड़ी डूंगरी (दाहोद) हालम मुकाम देवरादेव नारायण नगर रतलाम ने की थी। सुनीत व हिम्मत सिंह को भी गिरफ्तार कर लिया गया ।

फर्जी आधार कार्ड भी बनाए
आरोपित दिलीप साइको किलर था। वह लूट के लिए घर में घुसकर गोली मारकर हत्या कर देता था। उसका मुख्य उद्देश्य साक्ष्य या गवाह नहीं छोड़ना रहता है। उसके खिलाफ 2017 में दाहोद में हत्या के दो अलग-अलग मामले, रतलाम में 2009 में रेप का मामला दर्ज है। उसने गुजरात से अनुपम शर्मा व हिमांशु सोलंकी के नाम से फर्जी आधार कार्ड भी बनवा रखे हैं। उसे दाहोद के एक व्यापारी की हत्या के मामले में आजीवन कारावास की सजा हुई थी। 2019 में जेल से पेरोल पर बाहर आने के बाद रतलाम आकर किराये के मकान में रह रहा था।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password