Corona Effect: अयोध्‍या रामजन्‍मभूमि में इस बार बिना भक्‍तों के मनाई जाएगी “रामनवमी”

अयोध्या। कोरोना के लगातार बढ़ रहे संक्रमण का असर रामनवमी पर भी देखने को मिल रहा है। अयोध्या में रामनवमी को सबसे बड़े पर्व के रूप में मनाया जाता है। रामलला के लिए बधाई गीत गाए जाते हैं, लेकिन, कोरोना के बढ़ रहे मामलों की वजह से रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की तरफ से कहा गया है कि रामनवमी राम जन्मभूमि परिसर में ही मनाई जाएगी और इस दौरान भक्तों का प्रवेश पूरी तरह से वर्जित रहेगा।

घर पर मनाएं रामनवमी 
इतना ही नहीं रामनवमी पर अयोध्या के सभी बड़े संत-महंत लोगों से अपील कर रहे हैं कि लोग अयोध्या आने के बजाय अपने घरों में ही भगवान की पूजा और आराधना करें। संतों ने अपील करते हुए कहा है कि लोग अपनी बुद्धि और विवेक से खुद और परिवार के साथ समाज और देश की रक्षा करें। अगर बाहर के लोग रामनवमी के अवसर पर अयोध्या आएंगे तो कोरोना वायरस का संक्रमण फैल सकता है। इसीलिए, इस बार लोग रामनवमी के मौके पर अयोध्या ना आएं और घरों में ही रहकर अपने इष्ट की आराधना करें।

धूमधाम से मनाई जाती है रामनवमी 
राम जन्मभूमि सहित पूरे अयोध्या में रामलला का जन्मोत्सव धूमधाम से मनाया जाता है। संपूर्ण अयोध्या नगरी को दुल्हन की तरह सजाया जाता है। जन्मोत्सव के दिन रामनगरी में लाखों की संख्या में राम भक्त मौजूद रहते हैं और रामलला के जन्मोत्सव का आनंद लेते हैं। इस बार भी रामलला के जन्म उत्सव पर करोना का संकट देखने को मिल रहा है। जिस तरीके से प्रदेश में संक्रमण बढ़ रहा है उसको लेकर सरकार सजग है। अयोध्या के संत समाज का भी यही कहना है कि लोग अपने घरों में रहकर रामलला के जन्मोत्सव में धार्मिक आयोजन करें।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password