Rain In Cg: प्रदेश में फिर लौटेगा मॉनसून! इस दिन से तेज बारिश की संभावना

Rain In Cg

छत्तीसगढ़। छत्तीसगढ़ में लंबे समय से मॉनसून पर ब्रेक लगा हुआ है। जिस कारण प्रदेश के कई जिलों में Rain In Cg सूखे के हालत बने हुए है। गस्त माह से लेकर सितंबर तक प्रदेश में ओसत से कम बारिश हुई है। प्रदेश में जून-जुलाई में झमाझम बारिश दर्ज की गई है लेकिन इसके बाद भी अब तक 39 फीसदी कम बारिश हुई है। हालांकि अब राहत की खबर सामने आ रही है। प्रदेश में एक बार फिर मॉनसून सिस्टम सक्रिय हो रहा है। जिससे झमाझम बारिश हो सकती है।

मौसम विभाग के मुताबिक प्रदेश में 5 सितंबर से झमाझम बारिश की संभावना है। वहीं प्रदेश में आज राजधानी समेत कई जिलों में हल्की बारिश के आसार है। मौसम विभाग के मुताबिक प्रदेश के कुछ जिलों में मंगलवार को हल्की बारिश दर्ज की गई थी। वहीं बुधवार को मौसम समान्य रहा। राजधानी रायपुर में बुधवार सुबह से ही धुप निकल गई जिस कारण Rain In Cg दिन पर गर्मी और उमस से लोगों का हाल बेहाल रहा। वहीं बुधवार को राजधानी रायपुर का तापमान सबसे गर्म दर्ज किया है।

आज हल्की बारिश के आसार

मौसम विभाग के मुताबिक मॉनसून द्रोणिका दक्षिण गुजराज दक्षिण तटीय आंध्र प्रदेश पर करीब 3.1 किमी से 5.8 किमी ऊंचाई तक है। जिसका असर प्रदेश में भी देखने को मिल सकता है। आज गुरुवार को कुछ जिलों में हल्की तो कही भारी बारिश की संभावना जताई जा Rain In Cg रही है। वहीं प्रदेश में 5 सितंबर के बाद एक बार फिर से झमाझम बारिश हो सकती है।

ओसत से कम बारिश

बता दें कि इस साल 14 जिलों में ओसत से कम बारिश दर्ज की गई है। जिस कारण कई जिलों में सूखे के हालत बन रहे हैं। अगस्त तक प्रदेश के 14 जिलों में ओसत से कम बारिश हुई है। वहीं 12 जिलों में रूक-रूक कर बारिश दर्ज की गई है। हालांकि मौसम विभाग ने प्रदेश में फिर से झमाझम बारिश की उम्मीद जताई है मौसम विभाग(IMD)के मुताबिक 5 सितंबर से एक बार फिर से झमाझम Rain In Cg बारिश हो सकती है।

प्रदेश में अब तक ओसत से कम बारिश Rain In Cg हुई है जिस कारण फसलों को भी काफी नुकसान पहुंचा है। प्रदेश के कुछ जिलों में सूखे का संकट वापस मंडराने लगा है। प्रदेश में कुल 12 जिले ऐसे हैं जो सूखे की चपेट में हैं। मौसम विभाग की माने तो यहां 20 फीसदी से कम बारिश हुई है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password