Railway Ticket Rules : करोड़ों रेल यात्रियों के लिए राहत भरी खबर! अब बिना टिकट कैंसिल किए बदल सकेंगे ट्रेन और सफर की तारीख

Railway Ticket Rules : करोड़ों रेल यात्रियों के लिए राहत भरी खबर! अब बिना टिकट कैंसिल किए बदल सकेंगे ट्रेन और सफर की तारीख

नई दिल्ली। कई बार ऐसा होता Railway Ticket Rules है कि किसी इमरजेंसी indian railway news आने या फिर कुछ ticket rules और कारणों के चलते कई लोग अपनी यात्रा पूरी नहीं कर पाते। उन्हें अपनी ट्रेन कैंसिल करानी पड़ती है। इतना ही नहीं ऐसा करने पर रेलवे द्वारा आपके टिकट के पैसों में कटौती भी कर ली जाती है। पर अब ऐसा नहीं होगा। रेलवे विभाग द्वारा करोड़ों रेलयात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए अब एक बार रेलवे अभिनय योजना को शुरू करने जा रहा है।

ये होगा लाभ —
अगर आप भी ऐसे लोगों में शामिल हैं जो किसी कारणवश अपनी तय तिथि में यात्रा नहीं कर पा रहे हैं तो रेलवे आपके लिए बड़ी राहत लेकर आया है। यात्रियों को अब तय तिथि में यात्रा करने में असमर्थ होने पर टिकट कैंसिल नहीं कराना होगा। सिर्फ बीस रूपए शुल्क देकर यात्रा की तारीख आगे बढ़ाया जा सकता है। आपको बता दें इसका लाभ ये होगा कि यात्रियों को टिकट कैंसिल कराने से होने वाले भारी-भरकम कटौती का सामना नहीं करना पड़ेगा।

इन ट्रेनों में मिलेगी सुविधा —
आपको बता दें रेलवे द्वारा ट्रेन की तिथि बदलने संबंधी ये सुविधा स्लीपर से लेकर एसी श्रेणी के आरक्षित टिकट पर उपलब्ध कराई जाएगी। प्राप्त जानकारी के अनुसार रेलवे स्टेशन पर लगभग 50 प्रतिशत रिजर्वेशन टिकट बुक होते है। वहीं शेष यात्री ई- टिकट कराते हैं।

किसमें—कैसी सुविधा —
आपको बता दें ई- टिकट पर जहां वेटिंग लिस्ट क्लियर न होने पर पूरा पैसा वापस मिल जाता है तो वहीं पीआरएस काउंटर से टिकट बुक कराने वाले यात्रियों को पेपर टिकट के कई लाभ मिल रहे हैं। रेलवे की भाषा में टिकट में संशोधन कराने की प्रक्रिया को टिकट मॉडिफिकेशन कहते हैं। यानि आप अपने पहले से आरक्षित टिकट को बिना टिकट रद्द संशोधित करा सकते हैं। इसी मॉडिफिकेशन की प्रोसेस में रेलवे ने तिथि बदलने की सुविधा को भी शुरू कर दिया है। जिसके लिए आपको 20 रुपए का मामूली चार्ज देना होता।

ऐसे मिलेगी सुविधा —
झांसी मंडल के पीआरओ मनोज कुमार सिंह द्वारा मीडिया को दी गई जानकारी के मुताबिक टिकट मॉडिफिकेशन के तहत ट्रेन और तिथि में परिवर्तन किया जाता है। यह सुविधा 24 घंटे पहले संशोधन फॉर्म देने पर ही दी जाती है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password