रेलवे कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, अब अधिकारी बनने के लिए देनी होगी सिर्फ एक परीक्षा, जानिये नई व्‍यवस्‍था

नई दिल्ली: रेलवे कर्मचारियों के लिए खुशखबरी है। अगर आप कई सालों से प्रमोशन या विभागीय पदेन्नति के लिए ट्राई कर रहे हैं तो आपको अब इसके लिए और आसानी होगी। दरअसल, विभागीय परीक्षा को लेकर अब रेलवे ने नियमों में बदलाव कर दिया है, जिसके तहत अब जो कर्मचारी प्रमोशन पाना चाहते हैं उन्हें रेलवे बोर्ड ने ग्रुप C से B में विभागीय पदोन्नति के लिए होने वाली परीक्षा में संशोधन किया गया है।

एक महीने पहले बनाई गई प्री व मेंस परीक्षा की व्यवस्था खत्म कर दी गई है। अब सिर्फ एक परीक्षा कराई जाएगी, जिसमें 60 फीसद या अधिक अंक पाने वालों को इंटरव्यू के लिए बुलाया जाएगा। इससे पहले यह सीमा 75 फीसदी थी।

1 जनवरी 2021 से लागू होगी नई व्यवस्था

विभागीय पदोन्नति के लिए प्री एवं मेंस खत्म, केवल एक परीक्षा होगी। जानकारी के मुताबिक नई व्यवस्था 1 जनवरी 2021 के बाद खाली पदों के अपेक्षा करने वाली सीमित विभागीय (70 और 30 फीसद) प्रतियोगी परीक्षा में समान रूप से लागू होगी। इस व्यवस्था से कर्मचारियों के अधिकारी बनने का रास्ता आसान हो जाएगा।

परीक्षा में पूछे जाएंगे 125 बहुविकल्पीय सवाल

परीक्षा में एक-एक नंबर के 125 बहुविकल्पीय सवाल पूछे जाएंगे। हर गलत जवाब पर एक तिहाई अंक कटेगा। इसमें सौ प्रश्न हल करना अनिवार्य होगा। जिसमें 60 फीसद या अधिक अंक पाने वाले इंटरव्यू दे सकेंगे। रेलवे के कई जोन में पदोन्नति परीक्षाएं चल रही हैं।

बोर्ड ने लेखा को छोड़कर यातायात, वाणिज्य, कार्मिक, सिग्नल, विद्युत, यांत्रिक, इंजीनियरिग और स्टोर की परीक्षाओं पर रोक लगा दी है। रोक वहीं है, जहां अभी तक लिखित परीक्षा नहीं हुई है। जहां लिखित परीक्षा हो चुकी है, वहां साक्षात्कार जल्द पूरा करने के लिए कहा गया है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password