Rahul Gandhi : राहुल ने दो दिन में तीसरी बार बोला- नए कृषि कानूनों से बर्बाद हो जाएंगे किसान

जयपुर। (भाषा) कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने केंद्रीय कृषि कानूनों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर एक बार फिर निशाना साधते हुए आझ आरोप लगाया कि वह देश की चालीस प्रतिशत जनता के व्यापार (कृषि) को अपने दो मित्रों के हवाले करना चाहते हैं। राहुल गांधी राजस्थान के अपने दौरे के दूसरे दिन अजमेर के पास रूपनगढ़ में किसानों को संबोधित कर रहे थे।

हिंदुस्तान का सबसे बड़ा व्यापार कृषि का है

तीन केंद्रीय कृषि कानूनों का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘हिंदुस्तान का सबसे बड़ा व्यापार कृषि का है। 40 लाख करोड़ रुपये का व्यापार है। दुनिया का सबसे बड़ा व्यापार है और यह किसी एक व्यक्ति का व्यापार नहीं है। कृषि का व्यापार हिंदुस्तान के 40 प्रतिशत लोगों का व्यापार है। इसमें किसान, छोटे व्यापारी, मजदूर सब भागीदार हैं।’ उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चाहते हैं कि यह पूरा का पूरा व्यापार उनके दो मित्रों के हवाले हो जाए। इन कृषि कानूनों का यही लक्ष्य है।

40 प्रतिश हिंदुस्तान दो लोगों के हाथों में  जाए

मोदी जी चाहते हैं कि जो आपका है जो 40 प्रतिश हिंदुस्तान का है वह सिर्फ दो लोगों के हाथ में चला जाएगा।’ कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘लेकिन किसान कह रहा है कि हम मर जाएंगे लेकिन हम ये नहीं होने देंगे, कभी नहीं होने देंगे।’’ट्रालियों को जोड़कर बनाए गए मंच से किसानों (Rahul Gandhi) को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘यह मत सोचिए कि सिर्फ किसान बोल रहा है। किसान के पीछे मजदूर है, मजदूर के साथ छोटा व्यापारी खड़ा है।

कांग्रेस के बड़े नेता थे शामिल

अगर ये कानून लागू हो गए तो इसका नुकसान सिर्फ किसानों को नहीं होगा, सबके सब बेरोजगार हो जाएंगे।’’राहुल गांधी ने कहा, ‘‘अब मैं कह रहा हूं कि इन तीन कानूनों से हिंदुस्तान के सबसे बड़े व्यापार को हिंदुस्तान की 40 प्रतिशत जनता से छीनने का काम किया जा रहा है।’ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot), कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा (Govind Singh Dotasara), कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी अजय माकन (Ajay Maken) व पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट (Sachin Pilot) सहित कांग्रेस के तमात बड़े नेता इस अवसर पर मौजूद थे।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password