पुजारा और पंत पवेलियन लौटे, आस्ट्रेलिया ने शिकंजा कसा

सिडनी, 11 जनवरी (भाषा) आस्ट्रेलिया ने खतरनाक दिख रहे ऋषभ पंत और डटकर खेल रहे चेतेश्वर पुजारा को पवेलियन भेजकर सोमवार को पांचवें और अंतिम दिन चाय तक भारत का स्कोर पांच विकेट पर 280 रन करके तीसरे टेस्ट में जीत की ओर कदम बढ़ाए।

आस्ट्रेलिया के 407 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत को जीत के लिए 127 रन और बनाने हैं लेकिन अंतिम सत्र में संभवत: मेहमान टीम की नजरें 36 ओवर खेलकर मैच ड्रॉ कराने पर टिकी होंगी।

पंत (97) और पुजारा (77) ने चौथे विकेट के लिए 148 रन जोड़कर मैच जीतने की भारत की उम्मीदें जगाई लेकिन दूसरे सत्र में इन दोनों के आउट होने से टीम की मुश्किल बढ़ गई। चाय के विश्राम के समय चोटिल हनुमा विहारी चार जबकि रविचंद्रन अश्विन सात रन बनाकर खेल रहे थे।

पंत ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए आस्ट्रेलिया के गेंदबाजों को निशाना बनाया और अपनी 118 गेंद की पारी में 12 चौके और तीन छक्के मारे। दुनिया के सर्वश्रेष्ठ आफ स्पिनर नाथन लियोन के खिलाफ उनकी जंग दर्शनीय थी।

लियोन हालांकि दूसरी नई गेंद से पंत को पवेलियन भेजने में सफल रहे। पंत ने शतक पूरा करने की कोशिश में बड़ा शॉट खेलने का प्रयास किया लेकिन स्पिन होती गेंद उनके बल्ले का बाहरी किनारा लेकर शॉर्ट थर्ड मैन पर खड़े पैट कमिंस के हाथों में चली गई।

पंत के आउट होने के बाद पुजारा ने कुछ अच्छे शॉट खेले लेकिन जोश हेजलवुड ने उन्हें बोल्ड करके उनकी 205 गेंद की पारी का अंत किया। पुजारा ने अपनी पारी में 12 चौके लगाए।

पुजारा के आउट होने के बाद विहारी की पैर की मांसपेशियों में भी खिंचाव आया गया। अब विहारी और अश्विन के सामने टेस्ट ड्रॉ कराने की मुश्किल चुनौती है।

इससे पहले सुबह भारत दो विकेट पर 98 रन से आगे खेलने उतरा। आस्ट्रेलिया के लिए दिन की शुरुआत काफी अच्छी रही जब लियोन ने दूसरे ओवर में ही भारतीय कप्तान अजिंक्य रहाणे (04) को फारवर्ड शॉर्ट लेग पर मैथ्यू वेड के हाथों कैच करा दिया।

भारत ने इसके बाद पंत को बल्लेबाजी क्रम में विहारी से ऊपर भेजने का फैसला किया क्योंकि टीम को पता था कि इस विकेट पर टिके रहना आसान नहीं होगा और साथ ही क्रीज पर दायें और बायें हाथ के बल्लेबाजों के संयोजन से मदद मिलेगी।

पंत ने शुरुआती लगभग 35 गेंद तक सतर्क रवैया अपनाया लेकिन फिर लियोन के खिलाफ कदमों का इस्तेमाल करते हुए लांग आन पर छक्का और तीन चौके मारे।

टिम पेन ने इसके बाद लियोन का छोर बदला लेकिन पंत ने लांग आफ और लांग आन के ऊपर से उन पर दो और छक्के जड़ दिए। पुजारा ने भी इस आफ स्पिनर पर दो चौके मारे।

पंत हालांकि लियोन की गेंद पर तीन और 56 रन के निजी स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब पेन ने उनके कैच टपका दिए।

भाषा सुधीर

सुधीर

Share This

0 Comments

Leave a Comment

पुजारा और पंत पवेलियन लौटे, आस्ट्रेलिया ने शिकंजा कसा

सिडनी, 11 जनवरी (भाषा) आस्ट्रेलिया ने खतरनाक दिख रहे ऋषभ पंत और डटकर खेल रहे चेतेश्वर पुजारा को पवेलियन भेजकर सोमवार को पांचवें और अंतिम दिन चाय तक भारत का स्कोर पांच विकेट पर 280 रन करके तीसरे टेस्ट में जीत की ओर कदम बढ़ाए।

आस्ट्रेलिया के 407 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत को जीत के लिए 127 रन और बनाने हैं लेकिन अंतिम सत्र में संभवत: मेहमान टीम की नजरें 36 ओवर खेलकर मैच ड्रॉ कराने पर टिकी होंगी।

पंत (97) और पुजारा (77) ने चौथे विकेट के लिए 148 रन जोड़कर मैच जीतने की भारत की उम्मीदें जगाई लेकिन दूसरे सत्र में इन दोनों के आउट होने से टीम की मुश्किल बढ़ गई। चाय के विश्राम के समय चोटिल हनुमा विहारी चार जबकि रविचंद्रन अश्विन सात रन बनाकर खेल रहे थे।

पंत ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए आस्ट्रेलिया के गेंदबाजों को निशाना बनाया और अपनी 118 गेंद की पारी में 12 चौके और तीन छक्के मारे। दुनिया के सर्वश्रेष्ठ आफ स्पिनर नाथन लियोन के खिलाफ उनकी जंग दर्शनीय थी।

लियोन हालांकि दूसरी नई गेंद से पंत को पवेलियन भेजने में सफल रहे। पंत ने शतक पूरा करने की कोशिश में बड़ा शॉट खेलने का प्रयास किया लेकिन स्पिन होती गेंद उनके बल्ले का बाहरी किनारा लेकर शॉर्ट थर्ड मैन पर खड़े पैट कमिंस के हाथों में चली गई।

पंत के आउट होने के बाद पुजारा ने कुछ अच्छे शॉट खेले लेकिन जोश हेजलवुड ने उन्हें बोल्ड करके उनकी 205 गेंद की पारी का अंत किया। पुजारा ने अपनी पारी में 12 चौके लगाए।

पुजारा के आउट होने के बाद विहारी की पैर की मांसपेशियों में भी खिंचाव आया गया। अब विहारी और अश्विन के सामने टेस्ट ड्रॉ कराने की मुश्किल चुनौती है।

इससे पहले सुबह भारत दो विकेट पर 98 रन से आगे खेलने उतरा। आस्ट्रेलिया के लिए दिन की शुरुआत काफी अच्छी रही जब लियोन ने दूसरे ओवर में ही भारतीय कप्तान अजिंक्य रहाणे (04) को फारवर्ड शॉर्ट लेग पर मैथ्यू वेड के हाथों कैच करा दिया।

भारत ने इसके बाद पंत को बल्लेबाजी क्रम में विहारी से ऊपर भेजने का फैसला किया क्योंकि टीम को पता था कि इस विकेट पर टिके रहना आसान नहीं होगा और साथ ही क्रीज पर दायें और बायें हाथ के बल्लेबाजों के संयोजन से मदद मिलेगी।

पंत ने शुरुआती लगभग 35 गेंद तक सतर्क रवैया अपनाया लेकिन फिर लियोन के खिलाफ कदमों का इस्तेमाल करते हुए लांग आन पर छक्का और तीन चौके मारे।

टिम पेन ने इसके बाद लियोन का छोर बदला लेकिन पंत ने लांग आफ और लांग आन के ऊपर से उन पर दो और छक्के जड़ दिए। पुजारा ने भी इस आफ स्पिनर पर दो चौके मारे।

पंत हालांकि लियोन की गेंद पर तीन और 56 रन के निजी स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब पेन ने उनके कैच टपका दिए।

भाषा सुधीर

सुधीर

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password