petrol-diesel Price Incresed: कोरोना के साथ मंहगाई की मार, प्रदेश में फिर मंहगा हुआ पेट्रोल और डीजल...

petrol-diesel Price Incresed: कोरोना के साथ मंहगाई की मार, प्रदेश में फिर मंहगा हुआ पेट्रोल और डीजल…

भोपाल। प्रदेश सहित पूरे देश में लोग कोरोना महामारी के विकराल संकट से जूझ रहे हैं। ऐसे में मंहगाई ने भी आम आदमी की कमर तोड़ दी है। आज प्रदेश में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में एक बार फिर इजाफा हुआ है। राजधानी भोपाल में पेट्रोल की कीमतें 99.28 रुपए और डीजल की कीमतें 90.01 रुपए पहुंच गईं हैं। सरकारी तेल कंपनियों ने शुक्रवार को एक बार फिर पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोत्तरी की है। डीजल की कीमत में 30 से 35 पैसे और पेट्रोल की कीमत 28 से 30 पैसे तक बढ़ाई गई है।

गौरतलब है प्रदेश समेत पूरे देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतें अब तक के सबसे उच्चतम स्तर पर पहुंच गई है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पेट्रोल का दाम 91.27 रुपये जबकि डीजल का दाम 81.73 रुपये हो गया है। शुक्रवार को इनमें एक बार फिर बढ़ोत्तरी की गई है। वहीं मुंबई में पेट्रोल की कीमत 97.61 रुपये व डीजल की कीमत 88.82 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गई है। तेल कंपनियों ने लगातार तीसरे दिन ईंधन के दाम बढ़ाये हैं। पेट्रोल, डीजल के दाम में दैनिक मूल्य समीक्षा शुरू होने के बाद से दोनों ईंधनों में यह अब तक बड़ी वृद्धि में से एक है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम बढ़ने के बाद तेल कंपनियों ने घरेलू बाजार में वाहन ईंधन के दाम बढ़ाये हैं।

दिल्ली में भी बढ़े दाम
इस वृद्धि के बाद दिल्ली में पेट्रोल (Delhi Petrol Price) का दाम 90.74 रुपये से बढ़कर 90.99 रुपये प्रति लीटर हो गया। वहीं डीजल का दाम इस दौरान 81.12 रुपये से बढ़कर 81.42 रुपये प्रति लीटर हो गया। तेल कंपनियों की जारी मूल्य अधिसूचना में यह बताया गया है। दोनों ईंधन के दाम देश भर में बढ़े हैं। अलग अलग राज्यों में यह वृद्धि अलग अलग होती है। राज्यों में स्थानीय स्तर पर लगने वाले मूल्य वर्धित कर (वैट) की दर अलग अलग होने के कारण दाम में यह अंतर होता है। यह लगातार तीसरा दिन रहा है जब तेल कंपनियों (Oil Corporations) ने पेट्रोल, डीजल के खुदरा दाम में वृद्धि की है।

बंगाल चुनावों के समय नहीं बढ़ी कीमतें…
तेल कंपनियों ने पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों के दौरान लगातार 18 दिन तक दाम में कोई बदलाव नहीं किया। बहरहाल, इन तीन दिनों में हुये बदलाव में पेट्रोल का दाम 59 पैसे और डीजल का दाम 69 पैसे प्रति लीटर बढ़ गया है। इस वृद्धि के कारण 24 मार्च से लेकर 15 अप्रैल के बीच दाम में जो गिरावट आई थी वह करीब करीब समाप्त हो चुकी है। भारत में कोविड-19 के मामले तेजी से बढ़ने के बावजूद अंतरराष्ट्रीय बाजार (International Markets) में कच्चे तेल के दाम लगातार मजबूती की तरफ बढ़ रहे हैं। अमेरिका में मांग बढ़ने और डालर के कमजोर पड़ने की वजह से दाम बढ़ रहे हैं। पेट्रोलियम उद्योग के एक अधिकारी के मुताबिक अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम लगातार ऊपर की तरफ जा रहे हैं। कच्चे तेल के दाम 70 डालर प्रति बैरल के करीब पहुंच चुके हैं।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password