रेणु जोगी के गढ़ में सेंध की तैयारी, अब कोटा पर कांग्रेस की नजर

रायपुर: मरवाही की राजनीति से जोगी परिवार को बाहर करने के बाद अब कांग्रेस की नजर जोगी के दूसरे गढ़ कोटा पर है। यहां विधायक डॉक्टर रेणु जोगी को कांग्रेस घेरने की तैयारी में है। मरवाही में बीजेपी को समर्थन के मुद्दे को कांग्रेस, कोटा की जनता के साथ विश्वासघात बता रही है। कांग्रेस जनजागरण अभियान भी चलाने जा रही है।

मरवाही तो जोगी परिवार के हाथ से निकल चुका है। जोगी के पहले गढ़ में कांग्रेस सेंध लगा चुकी है। अब बारी दूसरे गढ़ कोटा की है। जी हां, जाति मामले में पेंच फंसने के बाद अमित जोगी और उनकी पत्नी ऋचा जोगी चुनाव नहीं लड़ पाए और अंत में कांग्रेस को हराने के लिए बीजेपी को समर्थन दे दिया। कांग्रेस फिर भी जीत गई और अब बीजेपी को समर्थन देने को उसने मुद्दा बना लिया है। अब निशाने पर रेणु जोगी है। उनका विधानसभा क्षेत्र कोटा है, जोगी कांग्रेस के 5 विधायक अलग-अलग राह पर चल रहे हैं। ऐसे में कांग्रेस, जोगी कांग्रेस के इस फूट को हथियार बनाकर जोगी परिवार पर घेराबंदी मजबूत बनाए रखना चाहती है।

उधर कांग्रेस के इस सियासी घेराबंदी को जोगी कांग्रेस ने राजनीतिक हमला बताया है। डॉक्टर रेणु जोगी ने कहा कि, राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के बाद उनपर राजनीतिक हमले तेज हो गए हैं।

मरवाही की राजनीति से आउट होने के बाद जोगी कांग्रेस की राह आगे आसान नहीं दिख रही। लेकिन कांग्रेस के लिए भी ये आसान नहीं होगा। देखना होगा कि 2023 के चुनाव आने तक जोगी कांग्रेस के गढ़ में क्या समीकरण फिट करती है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password