Upchunav: प्रदेश में उपचुनाव की तैयारियां तेज, नर्वाचन पदाधिकारी ने कलेक्टर को लिखा पत्र

भोपाल। प्रदेश में कोरोना का कहर थमते ही चुनावी हलचल देखने को मिलने लगी है। राजनीतिक गलियारों का भी माहौल गर्मा गया है। वहीं प्रदेश में नगरीय निकाय चुनावों की सुगवुगाहट भी देखने को मिलने लगी है। साथ ही प्रदेश की 1 लोकसभा और 3 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव की चर्चाएं भी तेज हो गई हैं। हाल ही में प्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने जिला कलेक्टर को पत्र भी लिखा गया था। इस पत्र में कहा गया था कि 3 साल से एक ही जगहों पर पदस्थ अधिकारियों का तबादला किया जाए।

उप मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने खंडवा, बुरहानपुर, निवाड़ी, सतना, देवास, अलीराजपुर कलेक्टर को पत्र लिखा था। इस पत्र में करीब 3 साल से एक ही स्थान पर जमे अधिकारियों के तबादले की भी बात की गई थी। साथ ही गृह स्थानों पर पदस्थ अधिकारियों को भी दूसरी जगह भेजना की बात कही गई थी। बता दें कि प्रदेश की चार सीटों पर उपचुनाव होना है। इन सीटों में से 1 लोकसभा और 3 विधानसभा सीटें शामिल हैं। खंडवा सांसद नंदकुमार सिंह चौहान के निधन के बाद से यह सीट खाली पड़ी है। वहीं पृथ्वीपुर, रेगांव और जोबट विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होना है।

इस कारण खाली पड़ी हैं सीटें…
दरअसल भाजपा के दिग्गज नेता और सांसद नंदकुमार सिंह चौहान का बीते दिनों निधन हो गया था। इसके बाद से ही यह लोकसभा सीट खाली पड़ी है। इस सीट पर उपचुनावों की घोषणा से पहले ही कांग्रेस के नेता अरुण यादव ने दावेदारी पेश कर दी है। वहीं भाजपा में कुछ नामों पर चर्चा गर्म है। हालांकि अभी तक किसी भी पार्टी ने आधिकारिक तौर पर प्रत्याशियों के नाम घोषित नहीं किए हैं।

वहीं पृथ्वीपुर विधायक बृजेंद्र सिंह राठौड़ के निधन के बाद यह सीट खाली पड़ी है। वहीं रेगांव से जुगल किशोर बागरी और जोबट में कलावती भूरिया के निधन के कारण सीटें खाली पड़ी हैं। कोरोना महामारी की दूसरी लहर के बाद इन सीटों पर उपचुनाव टाल दिए गए थे। अब कोरोना की लहर थमने के बाद इन सीटों पर होने वाले उपचुनावों की चर्चा गर्माने लगी है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password