Prahlad Death News : प्रहलाद के परिजनों को 5 लाख की आर्थिक सहायता, खेत में एक नया बोरवेल बनवाएगी सरकार -

Prahlad Death News : प्रहलाद के परिजनों को 5 लाख की आर्थिक सहायता, खेत में एक नया बोरवेल बनवाएगी सरकार

भोपाल। मध्यप्रदेश के निवाड़ी जिले के पृथ्वीपुर थाना क्षेत्र में बोरवेल में गिरे प्रहलाद को जावित निकालने के लिए 90 घंटे का प्रयास असफल रहा। प्रहलाद 90 घंटे से अधिक समय से बोरवेल में फंसा था। SDRF, NDRF,अन्य विशेषज्ञों की टीम ने दिन-रात मेहनत की लेकिन अंत में रविवार सुबह 3 बजे बच्चे का मृत शरीर  (Prahlad Death News ) निकाला गया। इस घटना पर राज्य में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दुख व्यक्त किया है।

जरूर पढ़ें : 200 फीट गहरे बोरवेल में गिरा मासूम, कैमरा से बच्चे की स्थिति जानने की जा रही कोशिश, दिया जा रहा ऑक्सीजन

5 लाख का मुआवज़ा
शिवराज सिंह चौहान ने दुख व्यक्त करते हुए कहा कि मुझे अत्यंत दुःख है कि निवाड़ी के सैतपुरा गांव में अपने खेत के बोरवेल में गिरे मासूम प्रहलाद को 90 घंटे के रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद भी बचा नहीं पाए।  एसडीआरएफ़, एनडीआरएफ़, और अन्य विशेषज्ञों की टीम ने दिन-रात मेहनत की लेकिन अंत में आज सुबह 3 बजे बेटे का मृत शरीर निकाला गया। दुःख की इस घड़ी में, मैं एवं पूरा प्रदेश प्रहलाद के परिवार के साथ खड़ा है और मासूम बेटे की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना कर रहा है। सरकार द्वारा प्रहलाद के परिवार को ₹5 लाख का मुआवज़ा दिया जा रहा है, एवं उनके खेत में एक नया बोरवेल भी बनाया जाएगा।

 

जरूर पढ़ें : Prahlad news : 24 घंटे से चल रहा संयुक्त टीम का रेस्क्यू, बस कुछ ही घंटों में बच्चे तक पहुंचने उम्मीद

मज़बूती से ढंकने का प्रबंध करे और करवाये
शिवराज सिंह चौहान ने दुख व्यक्त करते हुए लिखा कि मैं उन सभी से करबद्ध प्रार्थना करता हूँ की जो भी अपने यहां बोरवेल बना रहे है, वो बोर को किसी भी समय खुला न छोड़े। पहले भी ऐसे अकस्मात में बहुत से मासूम अपने जीवन गंवा चुके है। आप सब भी कहीं अगर अपने आस-पास बोरवेल बन रहे हो तो उसे मज़बूती से ढंकने का प्रबंध करे और करवाये।

जरूर पढ़ें : Prahlad Today News : किसी भी पल बोरवेल से बाहर आ सकता है प्रहलाद, ग्राउंड जीरो पर बढ़ाई गई सुरक्षा

ये है मामला
4 नवबंर सुबह एक मासूम 200 फीट गहरे बोरवेल में गिर गया था। 200 फीट गहरे बोरवेल में गिरने ( four year old innocent fell into deep feet ) के बाद गांव वालों ने इसकी सूचना ​दी थी। सूचना के बाद प्रशासन से बच्चे के रेस्क्यू के लिए बबीना से आर्मी टीम को बुलाया गया। आर्मी भी मौकेे पर पहुंची और बच्चे को बाहर निकालनेे का प्रयास कर रही है। बोरवेल में अंदर कैमरा भेज कर बच्चे की स्थिति जानने की कोशिश की जा रही है। बच्चे को लगातार ऑक्सीजन सप्लाई भी की जा रही है।

जरूर पढ़ें : जिंदगी की ‘जंग’ हारा प्रहलाद, 90 घंटे बाद बोरवेल से मृत हालत में निकला बच्चा

 

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password