प्रधान ने कोयला, खान मंत्री से एल्यूमीनियम संयंत्र की क्षमता विस्तार का आग्रह किया

भुवनेश्वर, चार जनवरी (भाषा) पेट्रोलियम और स्टील मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने सोमवार को मंत्रिमंडल के अपने सहयोगी प्रह्लाद जोशी से ओडिशा के अंगुल में नाल्को के एल्यूमीनियम संयंत्र की क्षमता को बढ़ाने का अनुरोध किया। जोशी के पास कोयला, खान और संसदीय मामलों का प्रभार है।

प्रधान ने अपने पत्र में जोशी से नाल्को के संयंत्र की क्षमता मौजूदा 0.46 एमटीपीए से बढ़ाकर एक एमटीपीए करने के लिए आवश्यक कदम उठाने का आग्रह किया है।

नेशनल एल्यूमीनियम कंपनी अंगुल में धातु पिघलाने वाले अपने संयंत्र का विस्तार करने वाली है। इसके तहत 1400 मेगावाट के फीडर कैप्टिव पावर प्लांट (सीपीपी) का निर्माण भी शामिल है।

प्रधान ने अपने पत्र में कहा है कि परियोजना की लागत अनुमानित तौर पर करीब 22,000 करोड़ रुपये है। वर्तमान में इसके लिए भूमि अधिग्रहण का काम चल रहा है ।

उन्होंने कहा कि एल्यूमीनियम पिघलाने के संयंत्र में बहुत ऊर्जा की जरूरत होती है और परियोजना का विस्तार पूरी तरह 1400 मेगावाट के फीडर सीपीपी को रियायती दर पर कोयला की लगातार आपूर्ति पर निर्भर है।

उन्होंने कहा, ‘‘इस संदर्भ में मैं आपसे अंगुल में नाल्को के एल्यूमीनियम संयंत्र की क्षमता 0.46 एमटीपीए से एक एमटीपीए कर विस्तार परियोजना को शुरू करने के प्रस्ताव को आगे बढ़ाने का अनुरोध करता हूं।’’

भाषा आशीष पवनेश

पवनेश

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password