डाक घर बचत बैंक अप्रैल तक अन्य बैंकों से जुड़ जाएगा

नयी दिल्ली, 31 दिसंबर (भाषा) भारतीय डाक को उम्मीद है कि डाकघर बचत बैंक को अन्य बैंक खातों के साथ अप्रैल तक जोड़ दिया जाएगा और 2021 में सभी सेवाओं के डिजिटलीकरण को बढ़ाने पर ध्यान दिया जाएगा।

डाक विभाग के सचिव प्रदीप्ता कुमार बिसोई ने पीटीआई-भाषा से कहा कि डाक विभाग ‘लॉकडाउन’ के दौरान जब रेल, सड़क और हवाई यातायात बंद थे, जरूरी सामानों को पहुंचाने में मुस्तैदी के साथ काम किया। साथ ही यह अपनी क्षमता बढ़ाने पर निरंतर काम कर रहा है क्योंकि अबतक ट्रेनों का परिचालन पूरी क्षमता के अनुसार नहीं हुआ है।

उन्होंने कहा, ‘‘हम नये साल में सेवाओं के डिजिटलीकरण बढ़ाने और घरों तक सेवाएं पहुंचाने पर जोर देंगे। हमारी बैंकिंग और वित्तीय सेवाएं पहले से डिजिटलीकृत हैं। हम डाक घर बचत बैंकों को भी अप्रैल तक अन्य बैंकों के खातों से सीधे जोड़ने की उम्मीद कर रहे हैं।’’

डाक घर कोर बैंकिंग समाधान (सीबीएस) प्रणाली दुनिया में सबसे बड़ी है। 23,483 डाक घर पहले से नेटवर्क से जुड़े हैं।

भारतीय डाक 50 करोड़ से अधिक डाक घर बचत बैंक (पीओएसबी) ग्राहकों को देश भर में 1.56 लाख डाकघरों के जरिये सेवाएं दे रहा हैं।

बिसोई ने कहा, ‘‘सेवाओं के डिजिटलीकरण के अलावा, हम लोगों को घरों तक सेवाएं पहुंचाने पर ध्यान दे रहे हैं। इस साल हमने 85 लाख लेन-देन के जरिये 900 करोड़ रुपये भेजे और 3 लाख पेंशनभोगियों का सत्यापन उनके घर जाकर किया गया।’’

भाषा

रमण अजय

अजय

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password