Politics: सत्ता में आए तो पंजाब में गरीब बच्चों को देंगे अच्छी और निशुल्क शिक्षा – केजरीवाल

Arvind Kejriwal

अमृतसर। आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को कहा कि अगर उनकी पार्टी पंजाब में सत्ता में आती है तो गरीबों और वंचितों के बच्चों को अच्छी और निशुल्क शिक्षा देगी। पंजाब में मुख्य विपक्षी दल आप के नेता ने कहा, ‘‘केवल अच्छी शिक्षा से समाज में बराबरी लायी जा सकती है और संविधान में निहित समानता के अधिकार सही मायने में सुनिश्चित किया जा सकता है।’’

राज्य में विधानसभा चुनाव इस साल होने वाले हैं। दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने यहां राम तीरथ मंदिर, महर्षि वाल्मिकी के आश्रम और भगवान राम के पुत्रों लव और कुश की जन्म स्थली के भी दर्शन किए। इस मौके पर संत समाज ने केजरीवाल को सम्मानित भी किया। उन्होंने कहा, ‘‘मैं सभी दलित बच्चों को शिक्षा मुहैया कराने की गारंटी देता हूं ताकि वे महर्षि वाल्मिकी और बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर के सपनों को साकार कर सके। गरीब तथा वंचितों के बच्चों को अच्छी शिक्षा देकर ही समाज में समानता लायी जा सकती है।’’

मीडिया को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा, ‘‘महर्षि वाल्मिकी और बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर दोनों ने शिक्षा को काफी महत्व दिया। बाबासाहेब अंबेडकर का सपना था कि भारत के प्रत्येक बच्चे को, चाहे वह गरीब हो या अमीर, अच्छी शिक्षा मिलें।’’उन्होंने दावा किया कि लेकिन यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि आज सरकारी स्कूलों की बदतर हालत के कारण दलितों तथा गरीबों के बच्चों को अच्छी शिक्षा नहीं मिल रही है। उन्होंने कहा, ‘‘सभी दलों ने दलित बच्चों के लिए बेहतर शिक्षा से संबंधित कई वादे किए लेकिन इसे संभव बनाने के लिए असल में कोई कदम नहीं उठाया।’’

केजरीवाल ने दलित बच्चों की शिक्षा, सफाई कर्मचारियों, संतों और सीवर की मरम्मत के काम में लगे लोगों से संबंधित चार वादे किए। गरीब और वंचित बच्चों की शिक्षा पर जोर देते हुए उन्होंने पहला वादा किया और कहा, ‘‘आप अगर सत्ता में आती है तो पंजाब के सभी गरीब और वंचित बच्चों को अच्छी और निशुल्क शिक्षा का अवसर मुहैया कराएगी।’’आप नेता ने राम तीरथ मंदिर श्राइन बोर्ड को भंग करने की संत समाज की मांग के साथ सहमति जतायी। उन्होंने वादा किया, ‘‘आप संत समाज की मांग को स्वीकार करेगी और श्राइन बोर्ड भंग कर देगी तथा मंदिर के संचालन की जिम्मेदारी समाज को सौंप देगी।’’

केजरीवाल ने तीसरा वादा सफाई कर्मचारियों के लिए किया। उन्होंने कहा कि पंजाब के अस्थायी सफाई कर्मचारियों को बहुत कम वेतन पर काम करने के लिए मजबूर किया जाता है। उन्हें अपनी दैनिक जरूरतों को पूरा करने के लिए भी संघर्ष करना पड़ता है।आप नेता ने कहा कि पार्टी यह सुनिश्चित करेगी कि सभी सफाई कर्मचारियों को नियमित किया जाए। उन्होंने कहा, ‘‘यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि 21वीं सदी में भी सीवर की सफाई में लगे कर्मचारियों को हाथ से गंदगी साफ करनी पड़ती है। दिल्ली में हमने सीवर की सफाई में लगे सभी कर्मचारियों को किट दी हैं। जब आप सरकार बनाएगी तो पंजाब में किसी भी सीवर कर्मचारी को हाथ से मैला नहीं ढोना पड़ेगा। सभी सीवर कर्मचारियों को किट उपलब्ध करायी जाएगी।’’भा

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password