पुलिस को संदेह : छाबड़िया की कंपनी ने कई वित्तीय कंपनियों के साथ ठगी की -



पुलिस को संदेह : छाबड़िया की कंपनी ने कई वित्तीय कंपनियों के साथ ठगी की

मुंबई, 29 दिसंबर (भाषा) मुंबई पुलिस ने मंगलवार को कहा कि उसे संदेह है कि कार डिजाइनर दिलीप छाबड़िया की कंपनी ने फर्जी तरीके से कर्ज लेकर कई वित्तीय कंपनियों के साथ धोखाधड़ी की है।

मुंबई अपराध शाखा की अपराध खुफिया इकाई (सीआईयू) ने सोमवार शाम को छाबड़िया को गिरफ्तार किया था।

यह कथित घोटाला तब सामने आया जब पुलिस ने दक्षिण मुंबई में दिलीप छाबड़िया डिजाइन प्राइवेट लिमिटिड द्वारा विनिर्मित स्पोर्ट्स कार ” डीसी अवंती ” को जब्त किया। पुलिस को सूचना मिली थी कि इस कार की पंजीकरण संख्या फर्जी है।

कार के मालिक ने दस्तावेज दिखाए गए जो वास्तविक पाए गए और बताया गया कि गाड़ी चेन्नई में पंजीकृत है।

पुलिस ने एक विज्ञप्ति में बताया कि इसी इंजन और चेसिस संख्या की अन्य कार हरियाणा में पंजीकृत मिली।

उसमें बताया गया है कि जांच में पता चला कि दिलीप छाबड़िया डिजाइन प्राइवेट लिमिटिड ने प्रत्येक ” डीसी अवंती ” कार के लिए फर्जी ग्राहकों के नाम पर औसतन 42 लाख रुपये का कर्ज लिया है।

भारत और विदेश में 120 ” डीसी अवंती ” कारों को बेचा गया है और कम से कम 90 कारों का इस्तेमाल कथित रूप से फर्जी तरीके से कर्ज लेने में किया गया है।

जांचकर्ताओं ने दावा किया कि वित्तीय कंपनियों को कर्ज लेने के लिए कागज़ों पर जो गाड़ियां दिखाई जाती थीं उन्हें पहले ही बेचा जा चुका होता था।

पुलिस ने कहा कि बीएमडब्ल्यू फाइनेंशल सर्विसेज समेत कई गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनियों को इस तरह से ठगा गया है।

अधिकारियों ने बताया कि अपराध शाखा इस बात का पता लगा रही है कि धोखाधड़ी से कितना ऋण लिया गया है और कर चोरी की वजह से सरकार को कितना नुकसान हुआ है।

छाबड़िया को धोखाधड़ी और जालसाज़ी समेत कई आरोपों में गिरफ्तार किया गया है।

भाषा

नोमान मनीषा

मनीषा

Share This

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password